शोषण विहीन समाज के लिए लड़ना ही शहीदे आजम भगत सिंह को सच्ची श्रदांजली होगी

Updated on: 17 October, 2019 02:15 PM
शहादत दिवस पर याद किए गए भगत सिंह आजादी के लिये देश मे क्रांति को मजबूत करने वाले शहीद भगत सिंह , सुखदेव और राजगुरु को शत शत नमन ! शोषण विहीन समाज के लिए लड़ना ही शहीदे आजम भगत सिंह को सच्ची श्रदांजली होगी फासीवादी दौर में भगत सिंह का विचार आज सबसे अधिक प्रासंगिक *भगत सिंह के अरमानों का भारत देश बनायेंगे चकिया/चन्दौली शहीदे आजम भगत सिंह का शहादत दिवस शुक्रवार को माकपा, मजदूर किसान मंच, स्वराज अभियान , भगत सिंह विचार मंच अन्य प्रगतिशील दलों ने संयुक्त रूप से गांधीनगर स्थित भगत सिंह पार्क में मनाया । वक्ताओं ने कहा कि भारत का इतिहास शहीदों से पटा है। भगत सिंह राष्ट्र की धरोहर हैं इन्होंने देश की आजादी के लिए अपने प्राणों को न्यौछावर किया। ऐसे शहीद को कभी भी भुलाया नहीं जा सकता। भारतीय इतिहास के पन्नों में उनका नाम अमिट है। साथ ही कहा कि भगत सिंह राष्ट्र के प्रति संजीदा रहे। उनकी सोच पूंजीवादी व्यवस्था को समाप्त करने गरीबों मजलूमों की मदद करने की सदैव रही है। वह सदैव गरीबों के हितैषी रहे। ऐसे वीर क्रांतिकारी नव जवान को हम सभी नमन करते हैं।हम उनके बलिदान को कभी भी बेकार नहीं जाने देंगे। और देश में सामाजिक समरसता बहाल किए जाने तक अपना संघर्ष जारी रखेंगे।कार्यक्रम के आरम्भ में भगत सिंह के प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस दौरान श्याम बिहारी सिंह ,राम अचल यादव,रामबरन निषाद, लालचंद सिंह एडवोकेट, मिश्री पासवान, ,राजेन्द्र यादव, राममूरत पासवान ,,मेवालाल, रामनंदन ,सहदेव भरत राम,नन्दलाल राम कन्हैया लाल, मिठाई लाल सहित दर्जनों वक्ताओं ने विचार व्यक्त किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता लालजी प्रसाद मोर्य ने किया व संचालन शम्भु यादव ने किया सभा के अंत में सभी शहीदों को दो मिनट का मौन रख कर श्रंद्धाजलि देकर सभा की समाप्ति हुयी रिपोर्ट-अखिलेश दुबे
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया