छात्रा का रेप के बाद बनाया वीडियो, फिर किया ब्लैकमेल, सिपाही-दरोगा पर दर्ज होगा केस

Updated on: 16 September, 2019 04:39 AM
दुष्कर्म पीड़िता की शिकायत पर सोमवार को सीजेएम यासमीन अकबर ने मेरठ में तैनात सिपाही अजीत कुमार सिंह और गाजीपुर में तैनात दारोगा राजेश्वर सिंह के खिलाफ प्राथिमिकी दर्ज करने का गुलरिहा पुलिस को आदेश दिया है। दरोगा सिपाही रिश्ते में मामा-भांजा हैं। न्यायालय के समक्ष पीड़िता का पक्ष रखते हुए अधिवक्ता सुशील चन्द साहनी ने कहा कि पीड़िता गोरखपुर विश्वविद्यालय में द्वितीय वर्ष की छात्रा है। उसकी दूर की रिश्तेदारी गुलरिहा क्षेत्र के ही महराजगंज टोला जमीनारा निवासी सिपाही अजीत कुमार सिंह के घर है। अजीत कुमार सिंह की वर्तमान में मेरठ जिले में तैनाती है। इसी रिश्ते की वजह से वह अख्सर छात्रा के घर जाता रहता था। 4 अक्तूबर 2018 को वह छात्रा को घुमाने के लिए डीडीयू में ले गया। छात्रा को वह एक कमरे में नशीला पानी पिलाकर उसके साथ दुष्कर्म किया और उसकी वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने लगा। सिपाही ने पीड़िता को शादी का भी झांसा देकर उसके साथ दुष्कर्म करता रहा। बाद में सिपाही अजीत कुमार सिंह ने शादी करने से मना कर दिया और छात्रा को जान-माल की धमकी दी। विरोध करने पर सिपाही के गाजीपुर जिले में तैनात दारोगा मामा राजेश्वर सिंह ने भी छात्रा को जान-माल की धमकी दी।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया