पेयजल आपूर्ति व्यवस्था में लापरवाही पर बिखरे कमिश्नर

Updated on: 20 October, 2019 05:47 PM
पेयजल आपूर्ति व्यवस्था में लापरवाही पर मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने बुधवार को जलनिगम के अधिकारियों को फटकार लगायी। कहा कि सारनाथ वाटर ट्रीटमेंट प्लांट से ओवरहेड टैंक तक पानी मई से पहले पहुंचाकर सभी घरों तक आपूर्ति सुनिश्चित करें। इसमें लापरवाही हुई तो अधिकारियों पर कार्रवाई तय है। कमिश्नर कैंप कार्यालय सभागार में अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे थे। कहा कि जनसामान्य की बुनियादी समस्याओं से संबंधित ऐसे तमाम कार्य जो वर्तमान में लागू आदर्श आचार संहिता से प्रभावित नहीं है, उसे भी विभागीय स्तर पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। डीआईजी कॉलोनी एवं पांडेपुर स्थित हिमांशु हॉस्पिटल के पास जल निगम द्वारा तत्काल कार्य शुरू कराए जाने का निर्देश दिया। निगम के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जहां-जहां लीकेज की समस्या है वहां तत्काल लीकेज को दुरुस्त कर पेयजलापूर्ति सामान्य की जाए। कुछ-कुछ जगहों पर सीवर ओवरफ्लो की शिकायतें आ रही हैं, ऐसे स्थानों को चिह्नित करा कर समस्याओं का निस्तारण सुनिश्चित कराया जाए। सड़कों पर लगी स्ट्रीट लाइटों को दिन में भी जलते रहने की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए नगर निगम के अधिकारियों पर भी नाराजगी जतायी। अर्दली बाजार से महावीर मंदिर तक सड़क की स्थिति काफी खराब होने पर उन्होंने नगर निगम के अधिकारी को तत्काल मरम्मत कराए जाने का निर्देश दिया। विशेष रूप से जोर देते हुए उन्होंने कहा कि जो भी सड़कें खोदी जाएं, उसे कार्य पूर्ण होने पर इसका अच्छी तरह रिपेयर अवश्य कराया जाए। मानक के अनुरूप सड़कों का रिपेयर न करने वाले ठेकेदारों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया जाए। पेयजल एवं सीवरेज पाइप लाइन का लीकेज एक स्थान पर ठीक कराने के बावजूद उसी स्थान पर दोबारा होने पर संबंधित इंजीनियर को जिम्मेदार मानते हुए उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। नगर निगम के अधिकारी अपने कार्यालयों से निकल कर प्रत्येक दिन सुबह-शाम अपने-अपने क्षेत्रों में भ्रमण करें। विगत दो-तीन दिनों से शहर में बिजली के ट्रिप होने की शिकायत पर कमिश्नर ने कहा कि कटौती की समस्याएं न आने पाए इसको हर हालत में सुनिश्चित कराया जाए। बैठक में जिलाधिकारी सुरेंद्र सिंह, नगर आयुक्त, अपर जिलाधिकारी नगर, मुख्य अभियंता लोक निर्माण विभाग, प्रोजेक्ट मैनेजर गंगा प्रदूषण, महाप्रबंधक जलकल सहित अन्य विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया