डॉ0 महेंद्र नाथ पांडेय ने किया नामांकन, प्रदेश के दिग्गजों की उपस्थिति भी भीड़ जुटाने में रही नाकाम       

सपा बसपा गठबंधन के प" /> डॉ0 महेंद्र नाथ पांडेय के नामांकन से जनता ने बनायीं दूरी

डॉ0 महेंद्र नाथ पांडेय के नामांकन से जनता ने बनायीं दूरी

Updated on: 20 October, 2019 12:34 PM

डॉ0 महेंद्र नाथ पांडेय ने किया नामांकन, प्रदेश के दिग्गजों की उपस्थिति भी भीड़ जुटाने में रही नाकाम       

सपा बसपा गठबंधन के प्रत्याशी संजय चौहान का पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा जबरदस्त विरोध जारी
------------------------------------
कांग्रेस ,जनाधिकार पार्टी व अपना दल गठबंधन की प्रत्याशी सुकन्या कुशवाहा दे रहीं हैं कड़ी चुनौती,असंतुष्टों का मिल रहा पूरा सहयोग
------------------------------------

जहां 24 अप्रैल दिन बुद्धवार को भाजपा के टिकट पर डॉ0 महेंद्र नाथ पांडेय ने नामांकन का पर्चा भरा।नामांकन से पहले एक जनसभा भी आयोजित की गई ।सभा को प्रदेश के मुखिया आदित्यनाथ योगी ,उप मुख्यमंत्री  केशव प्रसाद मौर्य,कलराज मिश्र ,दिनेश लाल यादव (निरहुआ)सहित तमाम दिग्गजों ने संबोधित किया तथा डॉ0 पांडेय को भारी मतों से विजय बनाने की अपील की ।आश्चर्य की बात तो ये है कि इतने दिग्गजों की उपस्थिति भी भीड़ जुटाने में नाकाम रही सभा के दौरान आचार संहिता की भी खूब धज्जियां उड़ाई गईं ।

प्रत्याशी सुकन्या कुशवाहा के प्रतिनिधि एवं पार्टी के प्रदेश महासचिव आई0पी0 कुशवाहा ने आरोप लगाते हुए कहाकि पूरे कार्यक्रम के दौरान प्रशासन के छोटे से लेकर बड़े अधिकारी सब भाजपा के एजेंट के रूप में कार्य कर रहे थे ।उन्होंने आगे कहा कि चुनाव आयोग के निर्देशानुसार नामांकन स्थल से 500 मीटर के भीतर कोई कार्यक्रम आयोजित नही हो सकता जबकि उक्त सभा के 500 मीटर से भी कम दूरी पर प्रदेश के मुखिया की उपस्थिति में सभख सम्पन्न हुई।उन्होंने आगे कहा कि हमारे प्रत्याशी को दिन भर चक्कर लगाने के बाद भी नामांकन पत्र क्रय करने हेतु  अंदर नहीं जाने दिया गया एवं उनकी चार पहिया वाहन को ये कहकर रोक दिया गया कि चार पहिया वाहन अंदर नहीं जा सकती जबकि श्री पांडेय के जुलूस में कई चार पहिया वाहन नामांकन स्थल तक गए ।

उन्होंने गठबंधन प्रत्याशी के सम्बन्ध में बताया कि विश्वस्त सूत्रों के द्वारा पता चला है कि उनका जबरदस्त विरोध जारी है सपा बसपा के सारे कार्यकर्ता स्थानीय प्रत्याशी को टिकट न देने से अत्यधिक नाराज हैं प्रत्याशी न बदले जाने की स्थिति में वो सुकन्या कुशवाहा को लाभ पहुंचा सकते हैं?उन्होंने कहाकि चंदौली में भाजपा की  स्थिति भी कमोबेश ठीक नहीं चल रही है ।उधर से भी असंतुष्टों द्वारा सुकन्या कुशवाहा को लाभ पहुंचाए जाने की संभावनाएं प्रबल होती जा रही हैं!उन्होंने जोर दे कर कहा कि  कुशवाहा समाज केशव प्रसाद मौर्य को मुख्यमंत्री न बनाए जाने से नाराज चल रहा है।मौर्या समाज का पूरा वोट शिवकन्या कुशवाहा की तरफ आता दिख रहा है!पटेलों का वोट भी आई0 पी0 कुशवाहा ने अपना बताया!इस प्रकार सूत्रों की मानें तो सुकन्या कुशवाहा इस क्षेत्र का पूरा समीकरण प्रभावित कर सकती हैं!

View More
© 2015 All Rights Reserved.
Design by Agile Soft