लोकसभा चुनाव 2019: वाराणसी में अब तक 87 नामांकन, देर रात तक लगी रही कतार

Updated on: 17 October, 2019 07:02 AM

पीएम नरेंद्र मोदी के प्रत्याशी होने के कारण वाराणसी संसदीय सीट पर चुनाव लड़ने की होड़ लगी है। अंतिम चरण के नामांकन के अंतिम दिन पर्चा दाखिल करने के लिए सुबह से देर रात तक लाइन लगी रही। रात दस बजे तक 56 प्रत्याशियों ने पर्चा दाखिल कर दिया था अौर आधा दर्जन से ज्यादा लोग लाइन में लगे थे। इससे पहले 31 लोग पर्चा दाखिल कर चुके हैं। इनमें दो दर्जन के करीब आंध्रा से आए किसान भी हैं। इस तरह अब तक 87 लोगों ने वाराणसी से ताल ठोंक दी है। यह संख्या पिछली बार चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों की संख्या से दोगुने से भी ज्यादा है। हालांकि प्रत्याशियों की संख्या मंगलवार को पर्चा जांच अौर दो मई को नाम वापसी की तारीख के बाद ही साफ हो सकेगी।

नामांकन के अंतिम दिन सोमवार को वाराणसी में पर्चा दाखिल करने वालों और उनके समर्थकों का हुजूम उमड़ पड़ा। कांग्रेस के अजय राय, सपा की पहले से घोषित प्रत्याशी शालिनी यादव और रामराज्य परिषद की ओर से श्रीभगवान जुलूस के साथ पर्चा दाखिल करने पहुंचे। सपा की अोर से ही तेजबहादुर ने पर्चा दाखिल किया। ओलंपियन हाकी खिलाड़ी पद्मश्री मोहम्मद शाहिद की बेटी हिना भी अपना नामांकन करने पहुंचीं। उन्हें जनहित भारत पार्टी ने अपना उम्मीदवार बनाया है। अतीक अहमद की अोर से उनके भतीजे शाहनवाज ने नामांकन दाखिल किया।

अंतिम चरण के लिए हो रहे मतदान के लिए वाराणसी में शनिवार तक 31 प्रत्याशियों ने नामांकन दाखिल किया था। इसके अलावा 73 लोगों ने पर्चे खरीदे थे और कुल 106 लोगों ने नामांकन के लिए चालान कटवाया था। सोमवार की दोपहर तीन बजे तक कलक्ट्रेट में पहुंचने वाले सभी प्रत्याशियों को नामांकन करने की इजाजत दी गई। वहीं, पीएम नरेंद्र मोदी के लीगल एडवाइजर काकू भाई भी डीएम से मिलने पहुंचे। चर्चा है कि नामांकन कागजात में कुछ संशोधन कराने पहुंचे हैं।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया