11 लाख लोग निकाले गए सुरक्षित, हाई अलर्ट पर तीनों सेनाएं; 10 खास बातें

Updated on: 22 September, 2019 06:04 AM
चक्रवाती तूफान 'फेनी (Fani Cyclone Latest और Live Updates) की वजह से कई जगह तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है। इसे देखते हुए ओडिशा, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु समेत कई राज्यों में अलर्ट घोषित किया गया है। हालात से निपटने के लिए गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी उच्चस्तरीय बैठक कर स्थिति की समीक्षा की। चक्रवाती तूफान फेनी शुक्रवार सुबह ओडिशा के पुरी के तट से टकराया। इसे लेकर सुरक्षा बलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। पढ़ें फेनी (Fani Cyclone) तूफान से जुड़ी 10 खास बातें: 1- सरकार ने सभी शैक्षणिक संस्थानों को बंद रखने के आदेश दिए हैं और तटीय जिलों में रह रहे 11 लाख से ज्यादा लोगों को सुरक्षित इलाकों में पहुंचाया गया। 3 मई को भुवनेश्वर और कोलकाता हवाई अड्डे से उड़ानों की आवाजाही बंद कर दी गई है। सभी हवाई अड्डा प्राधिकारियों को सावधान रहने का कहा गया है। हालात से निपटने के लिए सेना को भी तैयार रहने के निर्देश दिए गए हैं। यह देश का सबसे बड़ा आपदा पूर्व अभियान है। 2- चक्रवाती तूफान फेनी (Fani Cyclone) के पूर्वी तट की ओर मुड़ने के कारण ओडिशा में 11 लाख लोगों को तटीय इलाकों से निकाला गया। यह देश का अब तक सबसे बड़ा आपदा पूर्व अभियान है। 3- ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक तैयारियों का जायज लेने गए। इस दौरान उन्होंने कहा कि हर जीवन को कीमती बताया। उन्होंने कहा कि गर्भवती महिलाएं, बच्चे, बुजुर्ग व्यक्ति और शारीरिक रूप से अक्षम लोगों पर विशेष रूप से ध्यान देने की जरूरत है। 4- संभावित घटना से निपटने के लिए नौसेना, वायुसेना, सेना और तटरक्षक बल को हाई अलर्ट पर रखा गया है। राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ), ओडिशा आपदा रैपिड एक्शन फोर्स (ओडीआएएएफ) और दमकल जवानों को प्रशासन की मदद के लिए संवेदनशीन क्षेत्रों में भेजा गया है। 5- चक्रवात तूफान फेनी (Fani Cyclone) की तीव्रता को देखते हुए 219 गाड़िया आगामी 5 मई तक के लिए रद्द कर दी गई, जबकि चार ट्रेनों को मार्ग बदलकर चलाया जाएगा। अधिकारी ने बताया रद्द अथवा मार्ग परिर्वतन रेलगाड़ियों के आगामी तीन दिन के भीतर टिकट रद्द कराया जाता है, तो यात्रियों को किराये का पूरा रिफंड दिया जाएगा। 6- चक्रवात फेनी (Fani Cyclone) के पहुंचने की आशंका के मद्देनजर एक वरिष्ठ वन्यजीव अधिकारी ने बालूखंड अभयारण्य में हिरणों की सुरक्षा को लेकर चिंता जताई हैं। 7- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चाईबासा में 5 मई को होने वाली चुनावी रैली को एक दिन के लिए टाल दिया गया है। पड़ोसी राज्य ओड़िशा में शुक्रवार सुबह आने वाले वाले चक्रवाती फेनी (Fani Cyclone) के संभावित प्रभावों को देखते हुए इस रैली को टाला गया है। भाजपा के एक नेता ने यह जानकारी दी। 8- फेनी (Fani Cyclone) चक्रवात का असर गुरुवार शाम को यूपी के पूर्वांचल में भी देखने का मिला है। चंदौली जिले में आंधी-पानी व आकाशीय बिजली से चार लोगों की मौत हो गई। जबकि सोनभद्र जिले में भी एक बालक की मौत हो गई। 9- भीषण चक्रवाती तूफान फेनी (Fani Cyclone) के मद्देनजर पश्चिम बंगाल के आठ जिलों में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है और लोगों को तटीय इलाकों से दूर रहने की सलाह दी गई। कोलकाता स्थित मौसम विभाग कार्यालय ने फेनी (Fani Cyclone) के मद्देनजर पूर्वी और पश्चिमी मेदिनीपुर, झारग्राम, दक्षिण और उत्तर 24 परगना, हावड़ा, हुगली तथा कोलकाता में हाई अलर्ट घोषित कर दिया है। 10- ओडिशा के प्रसिद्ध पुरी के जगन्नाथ मंदिर की शिखर ध्वज ऊंचाई पहली बार कम की गई है। मंदिर के पुजारियों ने फैसला लिया है कि पहले के 21 हाथ के मुकाबले ध्वज की ऊंचाई 5 हाथ ही रखी जाएगी। ऐसा शुक्रवार को संभावित फेनी (Fani Cyclone) चक्रवात को देखते हुए किया गया है।
View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया