बंगाल में PM का ममता पर हमला, जय श्रीराम कहने वालों को दीदी भेज रहीं जेल

Updated on: 17 September, 2019 09:03 PM

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने सोमवार को पश्चिम बंगाल में कहा कि मैंने दो बार दीदी को फोन किया लेकिन उन्होंने बात नहीं की। उन्होंने कहा कि मैं अभी ओडिशा से फेनी से हुए नुकसान का जायजा लेकर यहां आया हूं। यहां पश्चिम बंगाल में भी जो हालात बने हैं, उससे मैं भली-भांति परिचित हूं।

पीएम मोदी ने कहा कि मैं पश्चिम बंगाल के लोगों को फिर भरोसा देता हूं कि केंद्र सरकार पूरी शक्ति से पश्चिम बंगाल की जनता के साथ खड़ी है और राहत के काम में राज्य सरकार का हर तरह से सहयोग कर रही है। केंद्र सरकार पूरी मुश्तैदी से राहत और बचाव के काम में जुटी हुई है। उन्होंने कहा कि दीदी जय श्रीराम कहने वालों को जेल भेज रही हैं।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पश्चिम बंगाल का बच्चा-बच्चा ट्रिपल टी टैक्स से परिचित है। ये ट्रिपल टी टैक्स है- तृणमूल तोलाबाजी टैक्स है। कॉलेज में एडमिशन हो, टीचर की भर्ती हो या ट्रांसफर हो, लोग बताते हैं कि सब जगह तृणमूल तोलाबाजी टैक्स लगता है।
इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओडिशा में चक्रवात 'फोनी के कारण हुई क्षति का आकलन करने के लिए सोमवार को हवाई सर्वेक्षण किया और राज्य में राहत कार्यों के लिए 1000 करोड़ रुपए की अतिरिक्त केंद्रीय सहायता मुहैया कराने की घोषणा की। मोदी ने चक्रवात से पहले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने की व्यापक मुहिम के लिए नवीन पटनायक सरकार की प्रशंसा की। उन्होंने मृतकों के परिजन के लिए दो-दो लाख रुपए और चक्रवात के कारण घायल हुए लोगों के लिए पचास-पचास हजार रुपए के मुआवजे की घोषणा की। इससे पहले भी केंद्र ने राज्य के लिए 381 करोड़ रुपए जारी किए थे। राज्य में चक्रवात ने भारी तबाही मचाई है और इसके कारण कम से कम 34 लोगों की मौत हो गई है।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया