प्रियंका गांधी पर स्मृति ईरानी का वार- अब पति का कम, मेरा नाम ज्यादा लेती हैं

Updated on: 22 September, 2019 06:06 AM

लोकसभा चुनाव के पांचवें चरण में 7 राज्यों में अमेठी लोकसभा सीट समेत 50 सीटों पर मतदान हो रहा है। केंद्रीय मंत्री और अमेठी से बीजेपी उम्मीदवार स्मृति ईरानी ने सोमवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पर हमला बोला है।

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, स्मृति ईरानी ने कहा कि पांच साल पहले वह मेरा नाम भी नहीं जानती थीं। अब वह मेरा नाम लेती है, ऐसी उपलब्धि। आजकल वह अपने पति का नाम कम और मेरा नाम ज्यादा लेती है।

एएनआई के मुताबिक, कांग्रेस अध्यक्ष पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि अमेठी में एक व्यक्ति की मौत सिर्फ इसलिए हो गई क्योंकि उसे अस्पताल में इलाज से वंचित कर दिया गया था, क्योंकि उसके पास आयुष्मान भारत कार्ड था। यहां राहुल गांधी ट्रस्टी हैं।

अमेठी में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और भाजपा नेता स्मृति जुबिन ईरानी आमने-सामने हैं। यहां लंबे समय से गांधी परिवार का प्रभाव बरकरार है, जिसे हटाकर भाजपा यहां अपनी जगह बनाने की कोशिश में जुटी है।

अमेठी लोकसभा सीट को वीवीआईपी सीट का दर्जा प्राप्त है। इस सीट पर 1980 में कांग्रेस नेता संजय ने पहली बार चुनाव जीता था। उसके बाद से यह सीट कांग्रेस गांधी परिवार की सीट बन चुकी है। यहां अब तक 16 लोकसभा चुनाव और 2 उपचुनाव हो चुके हैं, जिनमें 16 बार कांग्रेस को जीत मिली है। सिर्फ 1977 की जनता लहर में लोकदल और 1998 में भाजपा को यहां जीत मिली थी।

इस बार भी कांग्रेस से इस सीट पर अध्यक्ष राहुल गांधी मैदान में हैं। इनसे मुकाबले के लिए बीजेपी ने एक बार फिर केंद्रीय मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी को टिकट दिया है। मौजूदा केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी यहां की चुनावी जंग को धार देने में कोई कसर नहीं छोड़ रही हैं। वह यहां से दूसरी बार मैदान में हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में भी पार्टी ने उन्हें इसी सीट से टिकट दिया था।

2014 के चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार राहुल गांधी इस सीट से जीते थे। उन्हें कुल पड़े वोटों में से 63.8 फीसदी मत मिले थे। स्मृति ईरानी यहां से दूसरे स्थान पर रही थीं। उन्हें 34.4 फीसदी वोट मिले थे। इस सीट पा बीएसपी के प्रत्याशी 6.6 फीसदी वोट मिले थे, जबकि अन्य के खाते में 12.3 फीसदी वोट आए थे।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया