वाराणसी का फाइनल डाटा जारी, पढ़े-लिखे लोगों के इलाके कैंटोमेंट में सबसे कम वोटिंग

Updated on: 17 October, 2019 07:02 AM

प्रधानमंत्री नरेंद्रे मोदी के संसदीय क्षेत्र में मतदान का फाइनल डाटा जारी कर दिया गया है। जहां पूर्वांचल के सभी जिलों ने पिछले चुनाव से ज्यादा मतदान कर रिकार्ड बनाया, वहीं काशी में पिछले चुनाव से भी दो प्रतिशत कम मतदान हुआ है। पिछले लोकसभा चुनाव में यहां 58.35 प्रतिशत वोटिंग हुई थी। इस बार 56.97 प्रतिशत लोगों ने वोट डाले।

भीषण गर्मी के साथ ईवीएम में जगह जगह आई खराबी को भी इसका कारण माना जा रहा है। शहर के मुकाबले ग्रामीण इलाकों में ज्यादा वोटिंग हुई है। वाराणसी में पांच विधानसभा क्षेत्र हैं। इनमें तीन उत्तरी, दक्षिणी अौर कैंटोमेंट शहरी इलाके में हैं। रोहनिया अौर सेवापुरी ग्रामीण इलाके हैं।

वोट देने के मामले में एक बार फिर पढ़े लिखे लोगों के इलाके ने निराश किया है। वाराणसी में जिस कैंटोमेंट इलाके में शैक्षणिक संस्थाओं का हब है, वहां सबसे कम वोटिंग हुई है। इसी क्षेत्र में बीएचयू और तमाम कोचिंग संस्थान भी हैं। जहां पूर्वांचल ही नहीं बिहार और झारखंड से आकर शिक्षक और तमाम शिक्षा से जुड़े लोग रहते हैं। 

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (बीएचयू) परिसर में मत प्रतिशत तो बेहद कम रहा। यहां केवल 36.26 फीसदी मतदान हुआ। 2014 लोकसभा चुनाव में यहां 38 प्रतिशत मतदान हुआ था। कला संकाय में 336 से 339 कुल चार बूथों पर 4528 मतदाता पंजीकृत थे लेकिन केवल 1642 लोग मत देने पहुंचे।

 

सेवापुरी में पुरुषों से ज्यादा महिलाओं ने डाला वोट
वाराणसी संसदीय क्षेत्र में स्थित पांच विधानसभाओं में से सेवापुरी विधानसभा क्षेत्र में न सिर्फ सबसे ज्यादा वोटिंग हुई है, बल्कि यहां पुरुषों से ज्यादा महिलाओं ने वोटिंग की है। यहां कुल 63.39 प्रतिशत लोगों ने मताधिकार का प्रयोग किया। 63.80 प्रतिशत महिलाओं और 63.05 प्रतिशत पुरुषों ने वोट डाले। महिला पुरुष में अंतर की बात करें तो उत्तरी में यह सबसे ज्यादा है। उत्तरी में 57.82 प्रतिशत पुरुषों ने मताधिकार का प्रयोग किया। जबकि केवल 50.90 प्रतिशत महिलाएं वोट डालने पहुंची हैं।


विधानसभा वार मतदान प्रतिशत
क्षेत्र----कुल--------पुरुष-----महिला
उत्तरी--54.71-----57.82---50.90
दक्षिणी--58.16---62.58---52.63
कैंटोमेंट--52.42--54.74---49.55
रोहनिया--58.12--59.11---56.87
सेवापुरी--63.39---63.05---63.80

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया