भदोही में लाइव मुठभेड़, छह घंटे में अगवा बच्चे को छुड़ाया, अपहर्ता ढेर

Updated on: 17 October, 2019 07:12 AM

प्रयागराज से अगवा ठेकेदार के 6 वर्षीय बालक को पुलिस ने छह घंटे बाद ही भदोही से सकुशल बरामद कर लिया। प्रयागराज से भदोही तक पुलिस अौर अपहर्ता के बीच चली लुकाछिपी के बाद हुई लाइव मुठभेड़ में अपहर्ता संजय यादव गोली लगने से मारा गया। पुलिस के अनुसार उसने खुद को ही गोली मार ली थी। बताया जाता है कि अपहर्ता ठेकेदार के यहां पहले चालक था।

प्रयागराज के अल्लापुर में रहने वाले ठेकेदार का पांच वर्षीय बेटा सिविल लाइंस में बीएचएस के जिम्नास्टिक हॉल में शाम पांच से सात बजे तक प्रशिक्षण लेता है। मंगलवार को भी बीएचएस गया। शाम करीब सवा छह बजे ठेकेदार का पूर्व चालक संजय यादव बीएचएस पहुंचा। उसने जिम्नास्टिक कोच अभिलाष से कहा कि आज बच्चे का जन्मदिन है। घर में पार्टी है। उसके पिता ने बुलाया है। कोच ने बच्चे को जाने दिया। कुछ देर बाद चालक संजय ने ठेकेदार को कॉल करके बताया कि बच्चे को अगवा कर लिया है। बच्चा चाहिए तो तीन करोड़ रुपये का इंतजाम कर लो। इसके बाद बच्चे से भी बात कराई। बच्चे के अगवा होने से परिवार में कोहराम मच गया। उसके पिता ने पुलिस अफसरों से मदद की गुहार लगाई।

एसपी ने क्राइम ब्रांच समेत कई टीमें बच्चे को बरामद करने में लगा दी। इलाहाबाद पुलिस ने आरोपित का पीछा किया तो वह वाहन समेत भदोही की तरफ भागा। भदोही में सुरियावा थाना क्षेत्र के बसवापुर गांव के पास मंगलवार की रात करीब 10:30 बजे पुलिस ने घेराबंदी कर ली। बचने के लिए संजय यादव ने खुद को गोली मार ली। उसे उपचार के लिए जिला अस्पताल ज्ञानपुर लाया गया जहां चिकित्सकों ने रात करीब 11:00 बजे मृत घोषित कर दिया। इलाहाबाद अौर  भदोही एसपी भारी फोर्स के साथ अस्पताल पहुँचे। एएसपी डॉ संजय कुमार ने संजय की मौत की पुष्टि की। उधर, भदोही पहुँचें परिजनों की आँखे बेटे को सकुशल पाकर भर आई।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया