काशी में गर्मी के सभी रिकार्ड तोड़ने की तरफ बढ़ रहा पारा, दस साल में दूसरी बार 46 के पार

Updated on: 07 December, 2019 11:38 AM

काशी में पारा पिछले सभी रिकार्ड तोड़ने की अोर बढ़ रहा है। वाराणसी समेत आसपास के जिलो में भीषण गर्मी का कहर जारी है। गुरुवार को बीते चार सालों में मई का सबसे गर्म दिन रहा। इस साल भी पारा अबतक के शीर्ष स्तर पर पहुंच चुका है। अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस को पार करते हुए 46.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह औसत से पांच डिग्री सेल्सियस अधिक है। इससे पहले साल 2015 के मई महीने में पारा 46 डिग्री के पार था।

पिछले दस सालों में यह दूसरा मौका है जब अधिकतम तापमान 46 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच गया है। साल 2015 में 25 मई को अधिकतम तापमान 46.6 और साल 2009 में एक मई को 46.5 डिग्री सेल्सियस तापमान था। वैसे मई का सर्वाधिक तापमान 1998 में 23 मई को 46.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।

 भीषण गर्मी ने जनजीवन को बेहाल कर दिया है। लोगों के साथ-साथ पशु-पक्षी भी परेशान हैं। अबतक राहत नहीं है। धूप और लू ने लोगों को कैद कर दिया है। बहुत जरूरी होने पर ही लोग बाहर निकल रहे। सूर्यास्त होने के बाद भी तपिश से राहत नहीं मिल रही है। पंखे की हवा भी लू के थपेड़ों के समान लग रही है। शाम होते ही लोग ठंडी हवा की आस में घाट, पार्क और छतों पर टहल रहे हैं।

क्या है गर्मी बढ़ने का कारण
मौसम की वेबसाइट स्काईमेट के अनुसार राजस्थान और इससे सटे पाकिस्तान से लगातार चलने वाली गर्म और शुष्क हवाएं गर्मी को और भी प्रचंड बना रही हैं। वातावारण में नमी महज 30 फीसदी है। आकाश साफ है। सूरज की किरणें सीधी धरती पर पड़ रही हैं। इससे जमीन काफी तप रही है।

अभी और बढ़ेगा तापमान
स्काइमेट के मुताबिक, अगले दो से तीन दिनों में तापमान में और वृद्धि होने की उम्मीद है। इस समय मौसम की कोई भी महत्वपूर्ण गतिविधियां मौजूद नहीं है और कम से कम एक सप्ताह के लिए किसी भी मौसम गतिविधि की उम्मीद भी नहीं है। मौसम विभाग की वेबसाइट के अनुसार तीन जून को थंडर स्टार्म के कारण बूंदाबादी के आसार हैं। इससे गर्मी से कुछ राहत मिल सकती है।

प्रमुख शहरों के तापमान पर एक नजर
मथुरा     49.0 डिग्री
प्रयागराज     48.6 डिग्री
आगरा     46.3 डिग्री
फिरोजाबाद     46.0 डिग्री
मैनपुरी    46.0 डिग्री
एटा     46.0 डिग्री
कासगंज     46.0 डिग्री
कानपुर     45.8 डिग्री
लखनऊ     44.6 डिग्री

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया