पशुओं की देख-रेख को लेकर जिला अधिकारी ने दिए सख्त निर्देश

Updated on: 20 October, 2019 12:26 PM

चन्दौली/जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल ने कलेक्टेªट सभागार में अस्थायी गोशाला स्थल का निर्माण व पहले से रह रहे पशुओं के चारा,पानी व छाया सहित अन्य व्यवस्था की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित हो इसके लिए समस्त उपजिलाधिकारी, समस्त खण्ड विकास अधिकारी, जिला पंचायज राज अधिकारी, समस्त एडीओ पं0 एवं समस्त अधिशासी अभियन्ता नगर पंचायत एवं नगर पालिका के साथ बैठक कर सख्त निर्देश दिया कि अधिकारी अपने जिम्मेदारी को स्वंय देखे अधिनस्थों के सहारे न छोड़े जिन अधिकारियों को अस्थायी गोशाला की जिम्मेदारी सौपी गयी है वह प्रतिदिन जाकर देखरेख करे यदि कमी रहे तो तत्काल दुरूस्त करवाये, इसमें किसी प्रकार की लापवाही बर्दास्त नही होगी। जिलाधिकारी ने समस्त उपजिलाधिकारी एवं खण्ड विकास अधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि अपने-अपने हल्के के लेखपालों एवं सेगेटरी स्वंय क्षेत्र में भ्रमण कर निराश्रित एवं बेसहारा पशुओं को अस्थायी गोशाला में रखवाये यदि किसी गाॅव, कस्बा एवं नगर से बेसहारा पशु घुमने की शिकायत मिली तो नपेगें इसमें शासन स्तर से सख्त कार्यवाही करने के निर्देश प्राप्त है।
जिलाधिकारी ने बैठक के दौरान बने अस्थायी गोषाला सर्वानन्द, पपौरा, जमालपुर, लेहरा, काजीहाउस, भीषमपुर, नौगढ़, चकिया ब्लाक परिसर, सैयदराजा, चन्दौली वार्ड नं0 8 एवं 9 चतुर्भुजपुर एवं मुगलचक में बने अस्थायी गोशाला की जिम्मेदारी जिन अधिकारियों को सौपी गयी है वह अधिकारी स्वंय प्रतिदिन जाकर जाॅच कर लिया करे, यदि किसी पशुओं की चारा,पानी,छाया की समुचित व्यवस्था न रहने की शिकायत या स्वास्थ्य खराब होकर किसी पशुओं की मौत की बात संज्ञान में आयी तो अधिकारियों का वेतन रोकते हुये उनके खिलाफ विभागीय कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। कहा कि किसी भी दशा में स्वस्थ पशुओं की मृत्यु न हो इसके लिए समय-समय पर उनके सेहत व चारा, पानी व छाया की व्यवस्था सुनिश्चित किया जाय।
जिलाधिकारी ने अधिकारियो को गम्भीरता से कार्य करने की नसीहत देते हुये कहा कि सरकार द्वारा पर्याप्त मात्रा में धनराशी देने के बावजूद भी किसानो के खेत या शहरी/बाजार में अनावश्यक घुमते हुये पशु मिले तो खैर नही। कहा कि जिन अधिकारियों की तैनाती पहले से है वह लोग अपने-अपने गोशाला स्थल पर कितने पशुओं का चारा, पानी प्रतिदिन लगता है कितने पशुओं में इसका पूरा ब्योरा लाॅगबुक पर अंकित करते रहे यदि मेरे द्वारा निरीक्षण में कमियाॅ मिली तो अच्छा नही होगा। कहा कि लाॅगबुक भरने के साथ जियो टैकिंग एवं इयर टैकिंग भी कर लिया जाय। बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी डा0 अभय कुमार श्रीवास्तव, समस्त उपजिलाधिकारी ,जिला विकास अधिकारी पद्मकान्त शुक्ल, जिला पंचायत राज अधिकारी सहित खण्ड विकास अधिकारी मौजूद थें।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया