उत्तर भारत लू की चपेट में, दिल्ली में तापमान 46.6 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचा

Updated on: 12 November, 2019 05:04 AM

उत्तर भारत के अधिकांश इलाके भीषण गर्मी और तेज लू की चपेट में हैं। राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली और मध्य प्रदेश, विदर्भ, उत्तर प्रदेश और पूर्वी राजस्थान, जम्मू और कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़, मराठवाड़ा, तेलंगाना, झारखंड और उत्तर आंतरिक कर्नाटक में शनिवार को भीषण गर्मी का कहर जारी रहेगा। वहीं दिल्ली में लू का कहर जारी है। जिसकी वजह से शुक्रवार को राजधानी में लोगों को चिलचिलाती धूप के साथ ही झुलसाती गर्म हवाओं का सामना करना पड़ा। वहीं लू के मद्देनजर मौसम विभाग ने शनिवार को लेकर रेड अलर्ट जारी किया है। शनिवार को भी दिल्लीवासियों को चिलचिलाती घूप का सामना करना पड़ा, साथ ही झूलसाने वाली लू चल रही है, इस वजह से पूर्वी दिल्ली के कॉमवेल्थ गेम्स में अधिकतम तापमान 46.6 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है जो सामान्य तापमान से 6 डिग्री सेल्सियस ज्यादा है।


1- मौसम विभाग ने लू के मद्देनजर शुक्रवार व शनिवार के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। जिसके तहत विभाग ने शनिवार को दिन में बाहर जाने से बचने की सलाह दी है। मौसम विभाग के अनुसार रेड अलर्ट के दौरान दिन में बाहर निकलना स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हो सकता है। मौसम विभाग ने शनिवार के लिए रेड अलर्ट जारी करने के साथ ही रविवार-सोमवार के लिए ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया है। जिसके तहत दोनों दिन आसमान में हल्के बादल छाए रहने के साथ ही लू चलने की 90 फीसद संभावना जताई गई हैं। जिसकी वजह से अधिकतम तापमान 44 से 45 डिग्री के बीच बना रहेगा। इसके मद्देनजर मौसम विभाग ने दोनों दिन लू से बचने के लिए एहतियात बरतने की सलाह दी है। तो वहीं मंगलवार से गुरुवार तक के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है, जिसमें भी हल्के बादल छाए रहने के साथ ही लू चलने का अनुमान जताया गया है।

2- उत्तर और दक्षिण भारत में इस बार मानसून के सामान्य से कम रहने का अनुमान है। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने शुक्रवार को अपने पूर्वानुमान में यह जानकारी दी।  विभाग ने कहा कि आमतौर पर माना जाता है कि अल-नीनो मानसून पर अपना असर डालती है, जिसका असर बारिश के मौसम में भी जारी रहेगा। जुलाई में मानसून सामान्य से नीचे रहने की संभावना है जबकि अगस्त में यह सामान्य रहेगा।

3- आईएमडी ने कहा, 2019 के दक्षिण-पश्चिम मानसून के मौसम में पूरे देश में कुल मिलाकर सामान्य बारिश होने की संभावना है। उसने कहा, यह लंबी अवधि के औसत (एलपीए) का 96 प्रतिशत रहने की संभावना है। केरल में इस बार मानसून पांच दिन की देरी से छह जून को पहुंचने का अनुमान है। स्काईमेट ने कहा कि मध्य भारत में एलपीए की 91 प्रतिशत बारिश होने की संभावना है और विदर्भ, मराठवाड़ा,पश्चिमी मध्य प्रदेश तथा गुजरात में बारिश सामान्य से कम होगी।

4- आईएमडी के उत्तर-पश्चिम भारत उप-मंडल में पूरा उत्तर भारत आता है, जबकि मध्य भारत के उपखंड में मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गोवा, गुजरात और छत्तीसगढ़ जैसे राज्य शामिल हैं। पूर्वोत्तर भारत उपखंड में पश्चिम बंगाल, बिहार, ओडिशा, झारखंड और पूरा पूर्वोत्तर आता है जबकि दक्षिणी प्रायद्वीप में दक्षिण के पांच राज्य और केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी आता है।

5- बिहार की राजधानी पटना और इसके आसपास के क्षेत्रों में आंशिक बदली छाई हुई है। इस बीच शुक्रवार की तुलना में शनिवार को न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई है लेकिन पुरवैया हवा चलने से उमस भरी गमीर् का दौर जारी है। राजधानी पटना का शनिवार का न्यूनतम तापमान 26.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने अपने पूवार्नुमान में कहा है कि आने वाले एक-दो दिनों तक राज्य के कुछ क्षेत्रों में आंशिक बदली छाई रहेगी तथा कुछ क्षेत्रों में हल्की बारिश होने के भी आसार है। हालांकि, इस दौरान उमस भरी का दौर जारी रहेगा।

6- उत्तर प्रदेश में गर्मी से बेहाल प्रदेश के लोगों पर मौसम मेहरबान हो सकता है। अगले दो दिनों में पूर्वी यूपी में 50 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से धूल भरी आंधी चलने और कहीं-कहीं बूंदाबांदी होने के आसार बन रहे हैं। मौसम विभाग के अनुसार 2 व 3 जून को पश्चिमी यूपी में भी आंधी-पानी की संभावना है। मौसम निदेशक जे.पी. गुप्त ने बताया, यूपी के ऊपर चक्रवातीय दबाव बना हुआ है, जिसकी वजह से मौसम बदलने के आसार हैं। लखनऊ व आसपास शुक्रवार को दिन का तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक यानि 40.9 डिग्री सेल्सियस रहा। अब उमस भरी चिपचिपी गर्मी का सिलसिला चलेगा।

7-तत्कालीन बिहार राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी रांची अब गर्म हो रही है। इसका तापमान बढ़ने लगा है। मात्र दस वर्षों के दौरान ही इसके अधिकतम तापमान के औसत में 0.45 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि हो गई है। यह इसके पूर्व के दशक (वर्ष 2000-2009) के औसत तापमान से अधिक है। झारखंड गठन के बाद इस शहर में हर दिन बदलाव हो रहा है। इस दशक में रांची के अधिकतम तापमान का रिकॉर्ड भी टूटा है। 15 मई 2017 को रांची का अधिकतम तापमान 43.2 डिग्री सेलिस्यस रिकॉर्ड किया गया। यह इस महीने का अब तक का सर्वोच्च तापमान है।

8-उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में दोपहर को सड़कों पर पैदल चलना बहुत मुश्किल हो गया है। चटक धूप के चलते अधिकतम तापमान 40.4 डिग्री तक पहुंच गया है। यह इस सीजन का अधिकतम है। दोपहर ही नहीं, रात भी अब गर्म होने लगी है। हालांकि सुबह के वक्त तापमान न्यूनतम 22 डिग्री तक जा रहा है। मौसम विज्ञान केंद्र ने तीन जून को दून समेत कई स्थानों में हल्की बारिश की संभावना जताई है। मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, आने वाले दिनों में पारा और ऊपर चढ़ सकता है। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि तीन जून को बारिश होने की संभावना है। इससे तापमान में कुछ राहत मिल सकती है। लेकिन ये राहत उसी दिन के लिये होगी। आने वाले दिनों में तापमान और ऊपर जा सकता है। चारधाम में कहीं कहीं दो और तीन जून को तेज हवाओं के साथ बारिश हो सकती है।

9- मौसम विभाग लू के मद्देनजर चार श्रेणियों में अलर्ट जारी करता है। जिसमें रेड, ऑरेंज, येला व ग्रीन अलर्ट शामिल है। मौसम विभाग के अनुसार सामान्य अधिकतम तापमान से 4 डिग्री अधिक तापमान दर्ज किए जाने व अधिकतम तापमान 45 डिग्री होने पर रेड अलर्ट जारी किया जाता है। जिसे स्वास्थ्य के लिए खतरनाक माना जाता है। इसके बाद ऑरेंज अलर्ट जाती होता है, जिसमें लू को लेकर सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है। जबकि येला अलर्ट में लू का पूर्वानुमान जारी किया जाता है, तो वहीं सामान्य स्थतियों को ग्रीन अलर्ट की श्रेणी में रखा जाता है। 

10- शुक्रवार को कई क्षेत्रों में अधिकतम तापमान सामान्य से पांच से सात डिग्री ऊपर दर्ज किया गया। वहीं दो लोगों की लू लगने से मौत हो गई। हरियाणा के अंबाला, हिसार, रोहतक, भिवानी में पारा 45 डिग्री से ऊपर दर्ज किया गया। राज्य में जिला प्रशासन ने हीट स्ट्रोक से बचने के लिए एडवाइजरी जारी की है। जींद जिले के नगूरां गांव में एक व्यक्ति की गर्मी के कारण मौत हो गई। 

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया