अमित शाह ने केंद्रीय गृहमंत्री के रूप में कार्यभार संभाला

Updated on: 13 November, 2019 01:53 PM

अमित शाह ने शनिवार को गृहमंत्री पदभार संभाला। पिछली सरकार में गृहमंत्री रहे राजनाथ सिंह अब रक्षा मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालेंगे। निर्मला सीतारमण वित्त मंत्री बनाई गई हैं तो विदेश मंत्रालय की जिम्मेदारी पूर्व विदेश सचिव एस जयशंकर को दी गई है।

शाह ताकतवर: गृहमंत्री का दायित्व मिलने के साथ ही अमित शाह सरकार में बेहद ताकतवर मंत्री बनकर उभरे हैं। अमूमन गृह मंत्रालय सरकार में नंबर दो की हैसियत वाले मंत्री को दिया जाता रहा है। अटल जी की सरकार में लालकृष्ण आडवाणी गृहमंत्री रहे। मुरली मनोहर जोशी को भी 13 दिन की सरकार में यह जिम्मा दिया गया था। हालांकि नंबर दो कौन, इसका जवाब अगर वरिष्ठता क्रम के लिहाज से मिलना है तो अभी भी राजनाथ सिंह मंत्रियों की वरिष्ठता सूची में नंबर दो पर हैं।

कई अपवाद भी रहे: कई अपवाद रहे भी रहे हैं जब नंबर दो मंत्री को अलग-अलग दायित्व दिए गए। यह सरकार की प्राथमिकता के आधार पर तय होता रहा है। यूपीए सरकार में नंबर दो रहे प्रणब मुखर्जी के पास वित्त, विदेश और रक्षा मंत्रालयों का दायित्व रहा। वे हमेशा व्यावहारिक रूप से नंबर दो मंत्री और यूपीए सरकार के संकटमोचन बने रहे।

मोदी-शाह की केमिस्ट्री शानदार रही है। इस जोड़ी को सही मायने में भाजपा का विस्तार पूरे देश में करने का अहम किरदार माना जाता है। शाह के गृहमंत्रालय में आने के बाद धारा 370, 35 ए जैसे वैचारिक रूप से भाजपा व संघ के अहम मुद्दों पर सरकार के ज्यादा कठोर रुख की उम्मीद की जा रही है।

कार्मिक, जनशिकायत एवं पेंशन, परमाणु ऊर्जा, अंतरिक्ष, सभी महत्वपूर्ण नीतिगत मुद्दे तथा वैसे सभी विभाग को जो किसी को भी आवंटित नहीं किए गए हैं वे प्रधानमंत्री के पास रहेंगे।
 

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया