अल्ट्रासाउंड में जुड़वां, पैदा हुआ एक तो कहां गया दूसरा, जानिए पूरा मामला

Updated on: 22 October, 2019 03:05 PM

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिला महिला अस्पताल में उस वक्त बखेड़ा हो गया, जब डिलीवरी के दौरान एक बच्चा पैदा हुआ, जबकि परिजन गर्भ में जुड़वां बच्चा होने का दावा करते हुए अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट तक दिखा दी, लेकिन महिला अस्पताल के स्टाफ ने दीनदयाल अस्पताल की अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट पर सवाल उठा दिए। परिजनों ने एक बच्चा चोरी किए जाने का आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया। मामला थाने तक पहुंच गया। अब सीएमएस ने इस मामले में जांच बैठा दी है।

थाना क्वार्सी क्षेत्र के गांव हैवतपुर प्रथा निवासी सतेंद्र कुमार की पत्नी संगीता को रविवार को प्रसव पीड़ा हुई। इस पर उन्होंने पत्नी संगीता को जिला महिला अस्पताल में भर्ती कराया दिया। देर शाम डिलीवरी हुई तो स्टाफ ने बताया कि बेटा पैदा हुआ है। इस पर सतेंद्र ने स्टाफ से पूछा कि दूसर बच्चा कहां है। स्टाफ नर्स ने कहा कि एक ही बच्चा पैदा हुआ है, दूसरा कोई नहीं है। इसको लेकर परिजनों की स्टाफ से कहासुनी हो गई। परिजनों ने कहा कि पं. दीनदयाल अस्पताल में संगीता का रुटीन चेकअप हुआ है। चार बार अल्ट्रासाउंड हुआ है, जिसमें जुड़वां बच्चे होने की पुष्टि की गई है। परिजनों ने अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट भी उपलब्ध करा दी। आरोप है कि महिला अस्पताल की सीएमएस को अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट दिखाई तो उन्होंने झुटला दी। परिजनों ने स्टाफ से डिलीवरी कराने वाली महिला डॉक्टर का नाम व मोबाइल नंबर मांगा तो कहा गया कि वो मैडम तो बाहर गई हुई हैं। इस पर परिजनों ने एक बच्चा चोरी करने का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। उस वक्त किसी तरह मामला शांत करा दिया।

दूसरा बच्चा दिलाने की मांग :
सोमवार को भी कोई सही जानकारी नहीं देने पर परिजनों फिर हंगामा शुरू कर दिया। 100 नंबर पर पुलिस को भी सूचना दे दी। मामला थाने तक पहुंच गया। सोमवार को पीड़ित पति सतेंद्र परिजनों के साथ फिर महिला अस्पताल पहुंचा और दूसरे बच्चे के बारे में पूछताछ की, लेकिन कोई सही जानकारी नहीं दी गई। पीड़ित ने थाना बन्नादेवी में तहरीर देकर मामले की जांच कर दूसरा बच्चा दिलाने की मांग की है।

विश्व हिन्दू महासंघ के पदाधिकारी आए समर्थन में :
महिला अस्पताल से डिलीवरी के दौरान दूसरा बच्चा चोरी होने की जानकारी मिलने पर विश्व हिन्दू महासंघ के महानगर अध्यक्ष संदीप कुशवाह भी कार्यकर्ताओं के साथ महिला अस्पताल पहुंच गए। उन्होंने अस्पताल के स्टाफ से जानकारी मांगी मगर कोई जानकारी नहीं दी। इस पर वह सीएमएस से मिलने पहुंचे, लेकिन उनसे मुलाकात नहीं हो सकी। अब उन्होंने प्रशासन से कार्रवाई की मांग की है।

महिला अस्पताल की सीएमएस गीता प्रधान ने बताय कि  महिला का अल्ट्रासाउंड पहले दीनदयाल अस्पताल में हुआ था। इसमें दो बच्चे होने  की बात कही गई है, लेकिन हमारे यहां महिला ने एक ही बच्चे को जन्म दिया है। फिर भी महिला के पति की शिकायत पर मामले की जांच कराई जा रही है। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया