'वायु' ने रुख बदला तो दिल्ली-NCR को मिली राहत, बिहार में भीषण गर्मी का रेड अलर्ट

Updated on: 21 November, 2019 05:44 PM

चक्रवाती तूफान वायु के रुख बदलने से दिल्ली को गर्मी से राहत मिली है। दिल्ली-एनसीआर में सोमवार शाम से हो रही हल्की बारिश से मौसम सुहाना हो गया है। बारिश के साथ ही तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज होने से लोगों को गर्मी से राहत मिली। वायु तूफान के चलते दक्षिण पूर्वी दिशा से आने वाली हवा के चलते दिल्ली में अगले तीन-चार दिन तक बादल और हल्की बूंदाबांदी का मौसम बना रहने का अनुमान है।

अरब सागर में उठने वाला चक्रवाती तूफान एक बार फिर से गुजरात तट के तट की ओर बढ़ रहा है। माना जा रहा है कि यह सोमवार की अर्धरात्रि के समय समुद्र तट से टकरा सकता है। इसके चलते गुजरात में तेज हवा के साथ बारिश होने की संभावना है। जबकि, दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र को चक्रवाती तूफान वायु के चलते गर्मी से खासी राहत मिली है। प्रादेशिक मौसम पूर्वानुमान केन्द्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि चक्रवाती तूफान वायु के दोबारा गुजरात के समुद्र तट की ओर रुख करने की वजह से दिल्ली में आ रही हवाओं का भी रुख बदला है। अब दिल्ली में दक्षिण पूर्वी दिशा से हवा आ रही है। इस हवा में अरब सागर से आ रही नमी भी मौजूद है। इसके चलते अगले तीन दिनों तक बादल और बूंदाबांदी का क्रम बने रहने का अनुमान है। इससे लोगों को गर्मी से खासी राहत मिलेगी। इस दौरान अधिकतम तापमान 36-37 डिग्री तक बना रह सकता है।

उत्तराखंड में झमाझम बारिश से मौसम हुआ सुहावना

कई दिन से गर्मी और उमस झेल रहे लोगों को बारिश की बौछार और तेज हवाओं ने आखिरकार राहत दे दी। दोपहर बाद झमाझम बारिश से देहरादून के तापमान में 21 डिग्री तक तापमान गिर गया। जबकि उत्तरकाशी, चकराता और कुमाऊं मंडल के बागेश्वर और पिथौरागढ़ जिलों में भी बारिश से मौसम सुहावना हो गया। देहरादून में सोमवार दोपहर 12 बजे 39.6 डिग्री तापमान था। बारिश के बाद शाम छह बजे यह 18 डिग्री रह गया।

ओलावृष्टि और तूफान की चेतावनी
मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, देहरादून, उत्तरकाशी, हरिद्वार, टिहरी, पौड़ी, चमोली, रुद्रप्रयाग, बागेश्वर, उधमसिंहनगर, नैनीताल तथा पिथौरागढ़ में अगले 24 घंटों में बारिश हो सकती है। जबकि देहरादून, हरिद्वार तथा पौड़ी के मैदानी इलाकों में तूफान आ सकता है। देहरादून, टिहरी, हरिद्वार और पौड़ी में कहीं कहीं ओलावृष्टि की भी चेतावनी जारी की गई है। 

ऋषिकेश में बारिश, बिजली गुल
दोपहर बाद ऋषिकेश में हुई झमाझम बारिश ने झुलसाने वाली गरमी से राहत दिलाई। लेकिन तेज हवा चलने से पेड़ों की टहनियां बिजली लाइनों में गिर गई। जिससे शहर में बिजली गुल हो गई।

पिथौरागढ़, बागेश्वर में मौसम सुहावना
डीडीहाट, झूलाघाट, मुनस्यारी समेत पिथौरागढ़ जिले के कई क्षेत्रों में बारिश से लोगों को गरमी से राहत मिली। बागेश्वर जिले के कपकोट और दुग नाकुरी और धरमघर क्षेत्र में भी झमाझम बारिश हुई।

उत्तर प्रदेश में आज बदली, कल बारिश के आसार
बादलों की आवाजाही के बीच सोमवार को भी प्रचंड गर्मी रही। हालांकि शाम को मामूली राहत मिली। अधिकतम तापमान 49.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान 27 डिग्री रहा। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि मंगलवार को दोपहर बाद बादल छाएंगे। बुधवार को तेज हवाओं के साथ बारिश हो सकती है। अमौसी स्थित मौसम केंद्र के अनुसार बीते 24 घंटों में राजधानी के कुछ स्थानों पर बुंदाबांदी हुई। पश्चिमी विक्षोभ के असर से मौसम में यह बदलाव आया है। मंगलवार को भी कुछ स्थानों पर बुंदाबांदी या बौछार पड़ सकती है। वहीं, विश्वस्तरीय निजी मौसम एजेंसी ने बुधवार को हल्की से तेज बारिश की संभावना जताई है। अगले 24 घंटों में तापमान में ज्यादा बदलाव की संभावना नहीं है। हवा में आद्रता अधिक होने से उमस रहेगा।.

वहीं बादलों की आवाजाही के बीच सोमवार को भी प्रचंड गर्मी रही। हालांकि शाम को मामूली राहत मिली। अधिकतम तापमान 49.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान 27 डिग्री रहा। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि मंगलवार को दोपहर बाद बादल छाएंगे। बुधवार को तेज हवाओं के साथ बारिश हो सकती है। अमौसी स्थित मौसम केंद्र के अनुसार बीते 24 घंटों में राजधानी के कुछ स्थानों पर बुंदाबांदी हुई। पश्चिमी विक्षोभ के असर से मौसम में यह बदलाव आया है। मंगलवार को भी कुछ स्थानों पर बुंदाबांदी या बौछार पड़ सकती है। वहीं, विश्वस्तरीय निजी मौसम एजेंसी ने बुधवार को हल्की से तेज बारिश की संभावना जताई है। अगले 24 घंटों में तापमान में ज्यादा बदलाव की संभावना नहीं है। हवा में आद्रता अधिक होने से उमस रहेगा।

पटना में वार्म नाइट का अलर्ट, 19 के बाद राहत
बिहार में अगले 48 घंटे तक भीषण गर्मी की स्थिति देखते हुए मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी किया है। पटना, गया, औरंगाबाद , रोहतास सहित कई जिले लू की चपेट में हैं। अररिया, सुपौल, सहरसा, मधेपुरा, किशनगंज और कटिहार को छोड़कर पूरा सूबा चौथे दिन प्रचंड गर्मी झेलता रहा। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, इन छह जिलों को छोड़कर राज्य के अन्य सभी जिले में सतर्क रहने की जरूरत है।

सोमवार को पटना में दिन के तापमान में ढाई डिग्री की कमी आने से थोड़ी राहत मिली लेकिन रात में  हालात और बुरे हो गए। मौसम विज्ञान विभाग ने अलर्ट जारी कर कहा है कि पटना हीट वेव के साथ-साथ वार्म नाइट की चपेट में है।  सोमवार की रात भी ऐसी ही स्थिति रहेगी। गया में अब भी पारा सामान्य से पांच डिग्री ऊपर रिकॉर्ड किया गया। पटना और गया में अधिकतम पारा 42.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

वार्म नाइट का अलर्ट
मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार, पटना में रात में भी लू के हालात बने रहेंगे। रविवार को राजधानी के लोगों की रातें मुश्किल भरी रहीं और सोमवार की रात भी गर्मी का ऐसा ही सितम लोगों ने झेला। लोग पूरी रात सो नहीं पाए। आलम यह है कि जिस समय न्यूनतम पारा (सुबह 5.30बजे) 26 डिग्री सेल्सियस के आसपास होना चाहिए उस समय यह 32 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। ऐसे में अधिकतम पारा और न्यूनतम पारा का अंतर बढ़ने से वार्म नाईट का अलर्ट जारी किया गया है।

पटना में 19 के बाद बदलेगा मौसम
पटना में 19 जून के बाद मौसम में बदलाव के संकेत हैं। बादल छाएंगे। 21 जून से बारिश के आसार हैं। गया में 20 और 21 को हीट वेव का अलर्ट है और इन दिनों में वार्म नाईट का अलर्ट भी जारी किया गया है। भागलपुर भी अभी हीट वेव की चपेट में है और अगले 24 घंटे पारा इसी तरह रहेगा।

झारखंड में चार दिन तक हो सकती है छिटपुट बारिश

राजधानी और आसपास के इलाके में चार दिन तक छिटपुट बारिश के आसार हैं। राज्य में 22 जून तक मानसून का प्रवेश हो सकता है। बंगाल की खाड़ी में लो प्रेशर सिस्टम के तीन-चार दिनों में प्रभावी होने के बाद मानसून का आगमन संभव है। इस दौरान रांची में अधिकतम तापमान में वृद्धि नहीं होगी। मौसम विज्ञान विभाग के वरीय वैज्ञानिक ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में लो प्रेशर सिस्टम बनने से मानसून के आगे बढ़ने के आसार हैं। बताया गया कि 21 जून तक रांची और इसके आसपास के इलाके में गरज के साथ दो से पांच मिलीमीटर तक बारिश संभव है। इस दौरान रांची का अधिकतम तापमान 38 डिग्री सेसि पर कायम रहेगा। वैसे राजधानी में सोमवार को अधिकतम तापमान 37.3 डिग्री सेसि रिकार्ड किया गया।  21 जून के बाद बारिश में तेजी आएगी। 

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया