पोस्टमार्टम के लिए रिश्वत लेते कैमरे में कैद हुए कर्मचारी और सिपाही, जांच का आदेश

Updated on: 13 December, 2019 09:02 PM

पोस्टमार्टम के लिए शव को हाथ लगाने से पहले हाथ गर्म करने अौर गला तर करने यानी रुपये अौर शराब की मांग की शिकायत तो कई बार हुई लेकिन पुख्ता सूबत न होने के कारण कर्मचारियों पर कोई कार्रवाई नहीं हो सकी। शनिवार को भी पोस्टमार्टम से पहले शराब अौर रुपये लिये गए। इस बार पूरी घटना मोबाइल कैमरे में कैद हो गई। वीडियो वायरल होने पर हड़कंम मचा। सीएमअो का कहना है कि जांच कराई जाएगी। जो भी दोषी होगा कार्रवाई की जाएगी।

भदोही कोतवाली क्षेत्र के प्रजापतिपुर गांव निवासी पुनवासी राम गुरुवार को अपने साले के लड़के की शादी में शरीक होने चौरी थाना क्षेत्र के दरुनहां गांव के प्रधान छीलाई राम के यहां गए थे। शुक्रवार को बारात आने के बाद दोपहर में किसी काम से ससुराल के ही लल्लू राम के साथ बाइक से ममहर बाजार की ओर निकले थे। इस बीच, चौरी-ममहर मार्ग स्थित लठियां गांव के पास बाइकों की भिड़ंत में पुनवासी राम की मौत हो गई। शनिवार को शव का पोस्टमार्टम कराने परिजन पीएम हाउस पहुंचे तो वहां तैनात कर्मचारियों अौर पुलिसकर्मी ने शराब अौर एक हजार रुपयों की मांग की।

प्रजापतिपुर गांव निवासी लालमणि गौतम ने देशी शराब लाकर दी लेकिन अंग्रेजी मंगाई गई अौर पोस्टमार्टम शुरू करने से पहले रुपये भी लिये गए। इसी दौरान किसी ने पूरी घटना का वीडियो भी बना लिया। रविवार को वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होते ही स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। अधिकारी मामले पर पर्दा डालने की कोशिश में लग गए। सोमवार को इस बाबत सीएमओ डा. लक्ष्मी सिंह से बात हुई तो उनका कहना है कि भ्रष्टाचार व रुपयों की मांग को कत्तई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मैंने भी वीडियो देखा है। मामले की जांच कराई जाएगी। एक भी दोषी बचने नहीं पाएगा।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया