निर्माणाधीन परियोजनाओं के गुणवत्ता में लापरवाही क्षम्य नही होगी

Updated on: 17 October, 2019 07:13 AM

जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल कलेक्ट्रेट सभागार में 50 लाख से अधिक लागत एवं अन्य निर्माण कार्य के प्रगति के सम्बन्ध में बैठक की। बैठक के दौरान उन्होनें निर्माण एंजेसियों के अधिकारियों को हिदायत देते हुये कहा कि जनपद में निर्माणाधीन परियोजनाओं के गुणवत्ता में लापरवाही क्षम्य नही होगी। साथ ही कहा कार्य समयावधि में पूर्ण हो इसके लिए निरन्तर कार्य कराकर हस्तान्तरित करे, शिथिलता व धनउगाही की बात संज्ञान में आयी तो जेल का हवा खाना तय होगा।
बैठक के दौरान माहामाया पालिटेक्निक धानापुर के प्रधानाचार्य द्वारा बैठक में प्रतिभाग न करने पर कारण बताओ नोटिश जारी करने के निर्देश मुख्य विकास अधिकारी एके श्रीवास्तव को दी। राजकीय बालिका इण्टर कालेज सैयदराजा में निर्माणाधीन छात्रावास की प्रगति मन्द होने पर निर्माण एंजेसी को जमकर फटकार लगायी हिदातय देते हुये कहा कि कार्य को तीव्र गति से कहकर पूर्ण किया जाय अन्यथा एंजेसी के खिलाफ विभागीय कार्यवाही के साथ ब्लैकलिस्टेड घोषित कर दिया जायेगा साथ ही जिलाधिकारी ने विकास खण्ड चकिया के निर्माणाधीन राजकीय हाईस्कूल गरला की गुणवत्ता की जाॅच कर रिपोर्ट से अवगत कराने के निर्देश जिला विद्यालय निरीक्षक को दी।
जिलाधिकारी चहल ने बैठक के दौरान सकलडीहा मार्ग पर निर्माणाधीन रेल सम्पर्क-76 ए पर चल रहे रेल उपरगामी सेतु के निर्माण को अगस्त माह के अन्तिम तक पूर्ण कर जनता को समर्पित हो इसके लिए तीव्र गति से गुणवत्ता परक कार्य कर पूर्ण करे। बैठक के समाप्ति से पूर्व उ0 प्र0 राजकीय निर्माण निगम लि0 वाराणसी द्वारा निर्माण कराये जा रहे कलेक्टेट का कार्य तेजी से हो इसके लिए अधिक मिस्त्री लगाकर कार्य कराने के निर्देश दिये साथ ही कलेक्ट्रेट निर्माण के लिए नामित कमेटी को निदेर्शित करते हुये कहा कि समय-समय पर गुणवत्ता की जाॅच करने के लिए सैम्पल उच्चाधिकारियों तक भेजा जाय ताकि मानक में किसी प्रकार की लापरवाही न होने पाये।
बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी डा0 एके श्रीवास्तव, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, अधिशासी अभियन्ता पीडब्लूडी, अधिशासी अभियन्ता जल निगम सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थें।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया