वाराणसी स्टेशन पर शार्टकट के चक्कर में इंजीनियरिंग के छात्र की मौत, जिसने देखा रुह कांप गई

Updated on: 06 December, 2019 02:17 PM

वाराणसी के कैंट रेलवे स्टेशन पर रविवार को शार्ट कट के चक्कर में एक इंजीनियरिंग के छात्र की मौत हो गई। जिसने भी अपनी आंखों से हादसा देखा उसकी रुह कांप गई। पहले इंजीनियरिंग के छात्र के दोनों पैर शरीर से अलग हो गए फिर ज्यादा खून बहने के कारण मौके पर ही उसकी मौत हो गई। सभी का कहना है कि अगर वह शार्टकट के चक्कर में न पड़ता तो आज जिंदा होता।

शिवपुर निवासी 27 वर्षीय शादाब अली पुणे से इंजीनियरिंग कर रहा था। इस समय वाराणसी स्थित घर आया हुआ था। शादाब रविवार की दोपहर किसी काम से स्टेशन पहुंच गया। यहां छह नंबर प्लेटफार्म पर जाने के लिए प्लेटफार्म पांच से उतरकर जाने लगा। ट्रैक पर उस समय मालगाड़ी खड़ी थी इसके बाद भी वह ट्रेन के नीचे से पटरी पार करने लगा।

शादाब ट्रेन के नीचे पहुंचा ही होगा कि मालगाड़ी चल पड़ी। हड़बड़ी में उसने निकलने की कोशिश की अौर उसके दोनों पैर ट्रेन की चक्के से कटकर अलग हो गए। लोगों की चिल्लाने पर पहुंची जीआरपी जब तक उसे अस्पताल पहुंचाती अधिकर खून निकलने से उसकी मौत हो गई थी। जेब से मिले पहचान पत्र से उसकी शिनाख्त हुई। पिता लियाकत अली का पहले ही इंतकाल हो चुका है। शादाब अंतरराष्ट्रीय फुटबालर मुश्ताक अली का भतीजा था। जीआरपी ने जरूरी कोरम पूरा कर शव घरवालों के सुपुर्द कर दिया।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया