छह पेज के नोट से खुला बनारस के रहनेवाले आईआईटी हैदराबाद के स्टूडेंट की खुदकुशी का राज

Updated on: 16 November, 2019 08:19 AM

आईआईटी-हैदराबाद में पढ़नेवाले मार्क एंड्रयू चार्ल्स ने खुदकुशी की खबर जिसने भी सुनी, सभी को हैरान करके रख दिया। बार-बार दरवाजा खटखटाने के बाद भी जब नहीं खुला तो उनके दोस्तों ने दरवाजे को तोड़ दिया और जब देखा तो एंड्रयू की लाश कमरे में छत से लटके मिली।

पुलिस के मुताबिक, चार्ल्स ने हाल ही में परीक्षा दी थी। उनके अवसादग्रस्त होने का शक था। चार्ल्स ने छह पेज का सुसाइड नोट छोड़ा है। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि छात्र ने खुदकुशी का कारण खराब अंक का मिलना व नौकरी पाने में विफलता को बताया है।

मार्क एंड्रयू चार्ल्स ने कोर्स में और भावी जीवन में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाने के डर मात्र से आत्महत्या कर ली। चार्ल्स अगले तीन दिनों में आईआईटी-एच से मास्टर ऑफ डिजाइनिंग का कोर्स पूरा करने वाले थे। उन्हें डर था कि उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहेगा। 25 वर्षीय चार्ल्स उत्तर प्रदेश के वाराणसी के रहने वाले थे। इस सप्ताह उन्हें एक प्रेजेंटेशन देना था जिसके बाद उनका कोर्स पूरा हो जाता।

पुलिस ने कहा कि छात्र का शव संगारेड्डी जिले के कांडी के आईआईटी-एच कैंपस के उनके कमरे से मंगलवार को बरामद किया गया।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया