अगर-मगर के पेच में फंसा पाक, सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए करना होगा कुछ ऐसा

Updated on: 22 July, 2019 01:22 AM

वर्ल्ड कप के 41वें मुकाबले में खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही इंग्लैंड की टीम ने न्यूजीलैंड को 119 रनों से करारी शिकस्त दी। इस जीत के साथ ही इंग्लैंड वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली तीसरी टीम बन गई है। ऑस्ट्रेलिया और भारत पहले ही सेमीफाइनल में पहुंच चुके हैं। चौथे नंबर पर न्यूजीलैंड की टीम है, जो सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की कर सकती है। पाकिस्तान अब भी सेमीफाइनल की रेस में कायम है, लेकिन उसका रास्ता बहुत कठिन है।

पाकिस्तान का अगला मुकाबला बांग्लादेश से पांच जुलाई को होना है। अगर वह बांग्लादेश को हरा देता तो उसके 11 अंक हो जाएंगे। ऐसे में न्यूजीलैंड और पाकिस्तान के अंक बराबर हो जाएंगे। बराबर अंक होने की वजह से सेमीफाइनल का फैसला नेट रनरेट के आधार पर होगा।

बुधवार को इंग्लैंड की न्यूजीलैंड पर 119 रन की बड़ी जीत के बावजूद पाकिस्तान की सेमीफाइनल में पहुंचने की राह आसान नहीं हुई। बल्कि अब उसके सामने असंभव-सी चुनौती है। दूसरी ओर, न्यूजीलैंड का हार के बावजूद सेमीफाइनल में पहुंचना तय है। एक आकलन के अनुसार पाकिस्तान को न्यूजीलैंड के मुकाबले नेट रनरेट सुधारने के लिए बांग्लादेश को करीब सवा तीन सौ रन से हराना होगा जो कि असंभव सा लगता है।

पहला गणित यह कि अगर पाकिस्तान 350 का स्कोर करता है तो उसे बांग्लादेश को 312 रनों से हराना होगा। दूसरा गणित यह है कि अगर पाकिस्तान 400 का आंकड़ा छूता है तो उसे बांग्लादेश को 316 रन के विशाल स्कोर से हराना होगा।

मतलब यह कि अगर पाकिस्तान पहले बल्लेबाजी करते हुए 400 रन बनाए तो उसे बांग्लादेश को 84 रन पर ऑलआउट करना होगा, जो कि असंभव है। यानी साफ है कि पाकिस्तान सेमीफाइनल में नहीं पहुंचेगा। साथ ही उसका वर्ल्ड कप 2019 से बाहर होना लगभग तय है।

बाद में खेले तो संभावना नहीं
दूसरी स्थिति में यदि पाकिस्तान की टीम बाद में बल्लेबाजी करती है तो उसकी आगे बढ़ने की कोई संभावना नहीं रहेगी। भले ही लक्ष्य एक रन का ही क्यों न हो।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया