एक्शन में योगी सरकार, 200 अफसर बर्खास्त, अन्य 400 रडार पर

Updated on: 22 July, 2019 01:37 AM

पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन के यार्ड में भुवनेश्वर राजधानी हादसे का शिकार होने से बाल बाल बच गई। भारी भरकम ट्रैक्शन मोटर गिरने से ट्रेन झटके के साथ खड़ी हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही डीआरएम समेत आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। करीब साढे़ तीन घंटे बाद दूसरा इंजन लगाकर ट्रेन को आगे के लिए रवाना किया जा सका। इस हादसे के कारण पटना जा रही राजधानी एक्सप्रेस भी आधा घंटा तक खड़ी रही।

नई दिल्ली से भुवनेश्वर जा रही राजधानी एक्सप्रेस बुधवार की रात दो बजकर 5 मिनट पर दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन से रवाना हुई थी। ट्रेन अभी यार्ड स्थित क्रासिंग केबिन के समीप पहुंची ही थी कि इंजन में लगा भारी भरकम ट्रैक्शन मोटर खुलकर गिर गया। इससे ट्रेन अचानक खड़ी हो गई।

ट्रेन की स्पीड कम होने के कारण बड़ी घटना टल गई। हादसे की जानकारी मिलते ही डीआरएम अशोक मिश्रा सहित कई शाखाधिकारी मौके पर पहुंचे। सवा चार बजे दूसरा इंजन लगाकर ट्रेन को वापस स्टेशन लाया गया। इसके बाद ट्रेन की जांच पड़ताल के बाद पौने पांच बजे आगे के लिए रवाना कर दी गई।

डीआरएम अशोक कुमार मिश्रा ने बताया कि भुवनेश्वर राजधानी के इंजन का ट्रैक्शन मोटर खुल जाने के जांच का आदेश दे दिया गया है। जांच रिपोर्ट आने पर दोषी कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। चक्के के स्पीड बढ़ाने के लिए ट्रैक्शन मोटर का इस्तेमाल होता है।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया