रिजर्व डे पर जानें कौन-सी टीम फायदे में और किसको हो सकता है नुकसान

Updated on: 22 July, 2019 01:18 AM

इस विश्व कप में यह दूसरा मौका है, जब भारत और न्यूजीलैंड के मैच में बारिश की वजह से खेल में बाधा आई है। भारत और न्यूजीलैंड के बीच मंगलवार (9 जुलाई) को मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड में वर्ल्ड कप (ICC World Cup 2019) के पहले सेमीफाइनल की शुरुआत हुई। भारतीय गेंदबाजों ने टाइट गेंदबाजी करते हुए न्यूजीलैंड को खुलकर स्ट्रोक नहीं खेलने दिए। न्यूजीलैंड ने 46.1 ओवर में 211 रन बनाए, जब बारिश शुरू हो गई। इसके बाद लगातार बारिश होती रही, जिसकी वजह से मैच सस्पेंड करना पड़ा। वर्ल्ड कप में सेमीफाइनल और फाइनल के लिए रिजर्व डे रखे गए थे, इसलिए भारत और न्यूजीलैंड का यह मैच बुधवार (10 जुलाई) को खेला जाएगा।

आज मैच वहीं से शुरू होगा, जहां कर रुका था। यानि न्यूजीलैंड पांच विकेट पर 211 रन के स्कोर से अपनी पारी आगे बढ़ाएगा और 50 ओवर पूरे करेगा। वर्ल्ड कप के पहले चरण में पिच तेज थी लेकिन दूसरे चरण में पिच सूखी और धीमी होती गई। बारिश का असर ओल्ड ट्रैफर्ड की पिच पर हो रहा है। पिच स्लोअर होती जा रही है।

आज मैच हुआ तो भारत रहेगा फायदे में
हालांकि छोटा स्कोर ट्रिकी हो सकता है, लेकिन भारत के पास लंबी बैटिंग है। भुवनेश्वर कुमार भी जरूरत पड़ने पर अच्छी बल्लेबाजी कर सकते हैं। भारत के लिए दूसरी फायदेमंद स्थिति यह होगी कि भारत को रनों का पीछा कैसे करना है इसको सोचने के लिए काफी समय मिलेगा।

ओवर कम मिले तो हो सकता है नुकसान
यदि मैच कुछ ओवर कम का होता है तो भारत से ये फायदा छिन सकता है। न्यूजीलैंज के पास शानदार गेंदबाज हैं, जो किसी भी बैटिंग लाइनअप को ध्वंस कर सकते हैँ। यदि मैच बुधवार को वहां से शुरू होता है और आज बारिश नहीं होती तो 240 के आसपास का स्कोर तो भारत के लिए उतना मुश्किल नहीं होगा। भारतीय ओपनर पहले 10 ओवरों में परंपरागत ढंग से खेलते हैं। छोटे स्कोर का पीछा करने में यह नजरिया एकदम परफेक्ट है।

बहुत बुरी स्थिति होती है और भारत का टॉप ऑर्डर असफल हो जाता है तब भी भारत के पास पर्याप्त बल्लेबाजी है। ऋषभ पंत और हार्दिक पांड्या, अनुभवी महेंद्र सिंह धौनी और दिनेश कार्तिक आसानी से इतने रनों का पीछा कर सकते हैं। इसके अलावा रवींद्र जडेजा और भुवनेश्वर कुमार भी निचले क्रम में आत्मविश्वास से बल्लेबाजी कर सकते हैं।

पूरा मैच हुआ तो न्यूजीलैंड के लिए घाटे का सौदा
न्यूजीलैंड निश्चित रूप से चाहेगा कि बुधवार को खेल हो, और कम ओवरों का खेल हो। लेकिन यदि बुधवार को खेल वहीं से शुरू होता है तो बुमराह और भुवनेश्वर बचे हुए चार ओवर फेंकेंगे। उस स्थिति में न्यूजीलेंड अधिक रन नहीं जोड़ पाएगा। तब उन्हें डकवर्थ लुईस स्कोर से भी कम स्कोर दिया जाएगा। ऐसे में न्यूजीलैंड के लिए नुकसानदेह रहेगा।

डकवर्थ लुईस से फैसला
यदि बुधवार को भी बारिश की वजह से अगर ओवर घटाए गए और न्यूजीलैंड आगे बल्लेबाजी नहीं कर पाया तो डकवर्थ लुईस के नियमों के आधार पर भारत का लक्ष्य निर्धारित होगा।
-डकवर्थ लुईस के नियमों के आधार पर भारत को 20 ओवर मिले तो उसे जीत के लिए 148 रन बनाने होंगे।

-25 ओवरों में टारगेट 172 रन होगा
-30 ओवरों में टारगेट 192 रन होगा
-35 ओवरों में टारगेट 209 रन होगा
-40 ओवर में टारगेट 223 रन होगा
-46 ओवरों में भारत को जीत के लिए 237 रन बनाने होंगे।।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया