रीना हत्याकांडः हत्यारोपित आलोक को बैठाकर बिस्कुट खिलाने वाले थानाध्यक्ष राजीव सिंह नपे

Updated on: 07 December, 2019 11:38 AM

डाक्टर रीना की हत्या में आरोपित डॉ. आलोक सिंह के नाटकीय ढंग से समर्पण करने के बाद उसके सत्ता के बेहद करीबी होने और आईएएस जीजा एमपी सिंह की हनक देखने को मिली। गिरफ्तार किए जाने के बाद डॉक्टर को लॉकअप में रखने की बजाय कुर्सी पर बैठाकर पानी की बोलत, नमकीन और बिस्किट का पैकट दिया गया। आवभगत की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होते ही पुलिस ने डॉक्टर को लॉकअप में बंद किया। एसएसपी आनंद कुलकर्णी ने तत्काल मामले का संज्ञान लेते हुए थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर राजीव सिंह को लाइन हाजिर कर दिया।

दोपहर 12 बजे पुलिस जब डॉक्टर को मेडिकल के लिए पं. दीन दयाल अस्पताल ले जाने लगी तो उसके गुर्गों ने लॉकअप तक घेरा बना लिया। डॉक्टर के लॉकअप से निकलते ही गुर्गे पैर छूने लगे और पुलिस की गाड़ी में बैठने के दौरान उन्होंने मीडियाकर्मियों से बदसलूकी भी की। गुर्गों के गाली गलौज व धक्कामुक्की करने के बावजूद कैंट इंस्पेक्टर राजीव सिंह चुप्पी साधे रहे।

सुबह सात बजे आलोक ने किया सरेंडर

वाराणसी के हाईप्रोफाइल केस डाक्टर रीना हत्याकांड के मुख्य आरोपित पति आलोक सिंह ने गुरुवार की सुबह सात बजे कैंट थाने में सरेंडर कर दिया। रीना की हत्या के आरोप में आलोक के माता पिता भी नामजद हैं। मंगलवार को ही तीनों को अदालत ने फरार घोषित किया था। लेकिन सरेंडर केवल आलोक ने किया है। पुलिस आलोक को पूछताछ के बाद अदालत में पेश किया। जहां से उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

डाक्टर रीना की दो जुलाई को संदिग्ध परिस्थितियों में घर पर ही मौत हो गई थी। पति आलोक ने सीढ़ी से गिरने के कारण मौत की जानकारी दी थी। सीसीटीवी फुटेज से पता चला कि रीना सीढ़ी नहीं छत से गिरी हैं। इसके बाद रीना के पिता की तहरीर पर पति आलोक सिंह, ससुर ज्ञान प्रकाश सिंह अौर सास सावित्री सिंह के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया गया।

एक पखवारा से ज्यादा समय बीतने के बाद भी पुलिस रीना के पति, सास अौर ससुर को गिरफ्तार नहीं कर सकी तो पुलिस अदालत की शरण में चली गई। अदालत से पहले तीनों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कराया गया। इसके बाद भी गिरफ्तारी नहीं होने पर मंगलवार को कुर्की के तहत कार्रवाई की तैयारी शुरू हो गई। मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट पशुपति नाथ मिश्र की अदालत ने पति आलोक सिंह, ससुर ज्ञान प्रकाश सिंह व सास सावित्री सिंह को फरार घोषित कर दिया था। इसी के बाद अंदेशा था कि आलोक सरेंडर कर देगा।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया