आतंकवादी गुट अलकायदा के सरगना ओसामा बिन लादेन के पाकिस्तान के एबटाबाद में छिपे होने की जानकारी पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई को नहीं थी। पाकि" /> इमरान खान ने बोला झूठ! 'आईएसआई को नहीं थी लादेन के एबटाबाद में छिपे होने की जानकारी'

इमरान खान ने बोला झूठ! 'आईएसआई को नहीं थी लादेन के एबटाबाद में छिपे होने की जानकारी'

Updated on: 15 October, 2019 12:53 PM

आतंकवादी गुट अलकायदा के सरगना ओसामा बिन लादेन के पाकिस्तान के एबटाबाद में छिपे होने की जानकारी पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई को नहीं थी। पाकिस्तानी अखबार 'द न्यूज' की रिपोर्ट के मुताबिक, शीर्ष स्तर के एक सुरक्षा अधिकारी (सेवानिवृत्त) ने बताया कि आईएसआई के पास ओसामा बिन लादेन के एबटाबाद में होने की जानकारी नहीं थी।

रिपोर्ट के अनुसार, प्रधानमंत्री इमरान खान ने हाल ही में एक टेलीविजन साक्षात्कार के दौरान वॉशिंगटन में कहा कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी से मिली जानकारी से सीआईए को ओसामा बिन लादेन के करीब पहुंचने में मदद मिली।


नाम जाहिर नहीं करने की शर्त पर सेवानिवृत्त अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तान अपने रुख पर कायम है कि आईएसआई को ओसामा के पाकिस्तान में होने की जानकारी नहीं थी। इमरान खान ने कहा कि आईएसआई ने सीआईए को जानकारी दी जिससे अमेरिका को 2011 में आतंकी गुट के सरगना का पता लगाने और उसे मारने में मदद मिली। रिपोर्ट के अनुसार, खान के बयान से विवाद पैदा हो गया है और कई राजनेताओं ने इमरान के इस दावे की आलोचना की है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि आईएसआई द्वारा जानकारी देने के संबंध में प्रधानमंत्री का बयान संभव है कि पहले से ज्ञात तथ्य के संदर्भ में हो कि पाकिस्तान ने लादेन के सहयोगी अबू अहमद अली कुवैती द्वारा इस्तेमाल किए गए मोबाइल नंबर की जानकारी साझा की थी।

रिपोर्ट में कहा गया है कि डॉन में प्रकाशित एक खबर के अनुसार, सीआईए ने 2००9 से लेकर 2०1० के दौरान पाकिस्तान को चार फोन नंबर दिए थे लेकिन यह नहीं बताया कि वह किसकी तलाश कर रही है। ये नंबर हमेशा बंद रहते थे।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया