CCD फाउंडर सिद्धार्थ का कर्मचारियों को लेटर, 'मैं असफल हुआ, मुझे माफ करना'

Updated on: 22 November, 2019 09:27 AM

'कैफे कॉफी डे' (CCD) के संस्थापक (Founder) वी. जी. सिद्धार्थ (VG Siddhartha) सोमवार रात से लापता हैं। पुलिस के अनुसार कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एस. एम. कृष्णा के दामाद सिद्धार्थ सक्लेश्पुर जा रहे थे लेकिन अचानक उन्होंने अपने चालक से मंगलुरु चलने को कहा। वहीं, इस मामले में सिद्धार्थ द्वारा लिखा गया एक पत्र सामने आया है। इस लेटर में सिद्धार्थ ने कर्मचारियों और बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स को लिखा है कि सभी वित्तीय लेनदेन मेरी जिम्मेदारी है। कानून को मुझे और केवल मुझे जवाबदेह रखना चाहिए।

27 जुलाई को लिखे पत्र में सिद्धार्थ ने कहा कि मुझे उन सभी लोगों को निराश करने का बहुत अफसोस है, जिन्होंने मुझ पर भरोसा किया। मैंने लंबे समय तक लड़ाई लड़ी लेकिन आज मैंने हार मान ली क्योंकि मैं और दबाव नहीं बना सकता था। उन्होंने आगे लिखा कि मेरा इरादा कभी भी किसी को धोखा देने या गुमराह करने का नहीं था, मैं एक उद्यमी के रूप में विफल रहा हूं। यह मेरी ईमानदारी है। मुझे उम्मीद है कि किसी दिन आप मुझे समझेंगे, माफ करेंगे।

वहीं, पुलिस ने बताया कि दक्षिण कन्नड़ जिले के कोटेपुरा इलाके में नेत्रवती नदी पर बने पुल के पास वह कार से उतर गए और उन्होंने चालक से कहा कि वह टहलने जा रहे हैं। दक्षिण कन्नड़ जिले के उपायुक्त सेंथिल शशिकांत सेंथिल ने 'पीटीआई-भाषा' से कहा, 'उन्होंने (सिद्धार्थ) चालक से उनके आने तक रुकने को कहा। जब वह दो घंटे तक वापस नहीं आए तो चालक ने पुलिस से सम्पर्क कर उनके लापता होने की शिकायत दर्ज कराई।

उन्होंने बताया कि 200 से अधिक पुलिसकर्मी और गोताखोर 25 नौकाओं के जरिए उनकी तलाश कर रहे हैं। उपायुक्त ने बताया कि खोजी कुत्तों की भी मदद ली जा रही है। मंगलुरु के पुलिस आयुक्त संदीप पाटिल ने एक संदेश में कहा, 'तलाश में स्थानीय मछुआरों की मदद ली जा रही है। हम यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि उन्होंने किस-किससे फोन पर बात की थी।'

कांग्रेस विधायक यू.टी. खादर मौके पर पहुंचे और उन्होंने समाचार चैनलों से कहा कि पुलिस 'सभी पक्षों पर गौर कर रही है। तलाश जारी है।' मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा बंगलुरु में एस.एम कृष्णा से मिलने उनके घर पहुंचे और उन्होंने परिवार के सदस्यों के साथ बातचीत की। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डी. के. शिवकुमार भी कृष्णा के घर पहुंचे।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया