किसानों को हर हाल में पानी की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित कराये-जिलाधिकारी

Updated on: 07 December, 2019 07:19 PM

जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल की अध्यक्षता में जिला सिंचाई बन्धु की बैठक विकास भवन स्थित सभागार में की गयी। बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी ने जनपद में धान की रोपाई के सीजन व वर्षा की कमी को देखते हुए सिंचाई, विद्युत व नलकूप विभागों के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि किसानों को हर हाल में पानी की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित कराये। कहा कि नहरों में टेल तक पानी पहुचाने का प्रबन्ध सुनिश्चित किया जाय। जहाॅ कही भी टेल, माइनर आदि की आवश्यकता हो उसे तत्काल सफाई किया जाय। नहरों को पूरी क्षमता से चलाया जाय। किसानों के ट्बवेल के लम्बित विद्युत कनेक्शनों को तत्काल कनेक्शन देने की कार्यवाही किया जाय जिससे किसान अपने खेतों की सिंचाई समय से कर सके। खराब नलकूपों को तत्काल ठीक कराने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने पिछली बैठक में दिये गये निर्देशों के अनुपालन नही होने पर बेहद नाराजगी जाहिर करते हुए दो टूक कहा कि किसानों के खेतों में पर्याप्त पानी की व्यवस्था नही हुई और फसल खराब हुई तो सम्बन्धित विभागीय अधिकारी इसके जिम्मेदार होंगे और उन्हें कदापि बख्शा नही जायेगा। आज तक चारी लिफ्ट कैनाल के सही ढंग से कार्यकारी नही होने तथा पाईपों के फट जाने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने विभागीय अधिकारी एवं ठेकेदार के खिलाफ कमेटी बनाकर इसकी जाॅच कराये जाने का निर्देश मुख्य विकास अधिकारी को दिया। किसानों के ट्यूबवेल से सम्बन्धित लम्बित विद्युत कनेक्शनों को शीघ्र किये जाने का निर्देश अधिशासी अभियंता विद्युत को दिया। उन्होनें सटीक प्लानिंग करके नहरों के अन्तिम छोर तक पानी पहुचाने के लिए प्रबन्ध किये जाने को कहा जिससे किसानों के खेत तक पानी उपलब्ध हो सके व किसानों के फसल पानी के अभाव में बर्बाद न होने पाये। कई दिनों से खराब ट्रांसफार्मरों एवं लटकते हुए विद्युत तारों की शिकायतों को गम्भीरता से लेते हुए जिलाधिकारी ने तत्काल ठीक कराये जाने के निर्देश अधिशासी अभियंता विद्युत को दिये। सुदावं स्थित 15 क्यूसेक क्षमता की लघुडाल नहर पूरी क्षमता से नही चलने से किसान खेतों में धान की रोपाई नही कर पा रहे है, इस पर जिलाधिकारी ने सम्बन्धित इंजिनियर को पूरी क्षमता के साथ लिफ्ट कैनाल को चलाने का निर्देश दिया। किसानों द्वारा कुछ जगहों पर नहरों के ड्रेनों की शिल्ट सफाई नही होने की भी शिकायत मिली जिसे जिलाधिकारी महोदय ने सम्बन्धित को तत्काल शिल्ट सफाई करने का निर्देश दिया। इस अवसर पर किसानों द्वारा पशुओं की बिमारी की शिकायत मिलने पर उन्होनें मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को तत्काल उन जगहों पर जाकर उनके ईलाज एवं टीकाकरण करने के निर्देश दिये।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी, जिला विकास अधिकारी, उप निदेशक कृषि, सिंचाई,नहर, विद्युत, नलकूप विभाग से सम्बन्धित अधिकारी एवं जनपद के किसान एवं उनके प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया