बॉयफ्रेंड के साथ मिलकर युवती ने किया आठ साल की बहन का कत्ल

Updated on: 15 November, 2019 01:47 AM

मेरठ स्थित परतापुर के सौलाना गांव में आठ साल की बच्ची का उसकी मौसेरी बहन ने प्रेमी के साथ मिलकर अपहरण किया और गला दबाकर हत्या कर दी। लाश को जंगल में ठिकाने लगा दिया। वारदात के बाद किशोरी करीब 3.40 लाख रुपये लेकर प्रेमी के साथ फरार हो गई। दोनों बहनों के घर से गायब होने की सूचना पुलिस को दी गई, जिसके बाद छानबीन की गई। किशोरी और उसके प्रेमी को सैदपुर गांव से बरामद किया तो सनसनीखेज खुलासा हुआ। वारदात में शामिल युवक के दो अन्य साथियों को भी पुलिस ने उठा लिया है। फिलहाल बच्ची का शव बरामद नहीं हो सका है और कांबिंग की जा रही है।

सौलाना गांव निवासी शौकीन की बेटी रुकसाना (16) सोमवार शाम अपने पड़ोस में रहने वाली मौसेरी बहन जैनब (8) के साथ खेतों पर गई थी। देरशाम तक दोनों वापस घर नहीं आई तो परिजनों ने खोजबीन की। कुछ पता नहीं चला तो पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया और तलाश शुरू कर दी। मंगलवार सुबह रुकसाना को सैदपुर गांव में राशिद के घर से बरामद कर लिया गया।

पूछताछ में सनसनीखेज खुलासा हुआ और परिजनों के पैरों तले से जमीन निकल गई। रुकसाना ने खुलासा किया कि घर में रखी 3.40 लाख रुपये लेकर वो जैनब के साथ जंगल तक आई थी। यहां पर उसका प्रेमी राशिद अपने दो साथियों उस्मान और आलम के साथ मिला। यहां से जैनब को साथ ले जाने में खतरा था। जैनब बार-बार घर जाकर पूरी बात बताने की धमकी दे रही थी। इसी को लेकर जैनब का गला दबाकर हत्या कर दी और लाश को जंगल में छिपा दिया।
इस सनसनीखेज खुलासे के बाद पुलिस टीम और परिजनों ने जैनब की तलाश शुरू कर दी। पुलिस और ग्रामीणों ने बच्ची की
तलाश में जंगल में कांबिंग शुरू की। फोरेंसिक टीम और ड्रोन बुलवाया गया। चार से पांच घंटे तलाश करने के बाद भी बच्ची की लाश का पता नहीं चल सका। इसके बाद पुलिस टीम वापस थाने आई। अब डॉग स्क्वायड को बुलाकर पूरे इलाके में छानबीन की तैयारी की जा रही है।

पुलिस ने बरामद की एक लाख से ज्यादा रकम
पुलिस ने रुकसाना के पास से 59 हजार रुपये और राशिद के पास से 50 हजार रुपये बरामद किए हैं। इसके अलावा बाकी लोगों के घर पर भी दबिश दी गई है। परिजनों का कहना है कि रुकसाना घर से 3.40 लाख रुपये लेकर गई थी। पुलिस का मानना है कि प्रेमी राशिद ने रकम कहीं और भी रखी हुई है।

पहले भी घर छोड़कर गई थी रुकसाना
ग्रामीणों ने पुलिस के सामने खुलासा किया कि रुकसाना एक बार पहले भी घर छोड़कर जा चुकी थी। इसके बाद उसे बरामद कर लिया गया था। इस बार पुलिस पता करने का प्रयास कर रही है कि आखिर वो कहां-कहां रुकी और बच्ची की हत्या के बाद लाश को कहां फेंका।

थाने में बिलखते रहे परिजन
बकरीद पर जैनब लापता हुई तो परिवार के लोगों की बैचेनी बढ़ गई। इसके बाद परिजन रात तक खोजबीन करते रहे, लेकिन कुछ पता नहीं चला। इसके बाद पुलिस के पास पहुंचे। मंगलवार को थाने में बैठकर परिजन बिलखते रहे। बार बार जैनब को बरामद करने की मांग करते रहे।

आठ साल की बच्ची लापता है। मुकदमा दर्ज कर लिया है। बच्ची को उसकी मौसेरी बहन रुकसाना आखिरी बार घर से बाहर लेकर गई थी। रुकसाना और उसके प्रेमी को उठाया है। दोनों से पूछताछ की जा रही है। अभी बच्ची नहीं मिली है।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया