पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम के खिलाफ ED ने जारी किया लुकआउट नोटिस

Updated on: 20 November, 2019 03:23 AM

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता पी चिदंबरम पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। पी चिदंबरम ने आईएनएक्स मीडिया मामले में उनकी अग्रिम जमानत याचिका खारिज करने के दिल्ली उच्च न्यायालय के फैसले को उच्चतम न्यायालय में चुनौती दी। चिदंबरम के वकीलों ने आईएनएक्स मीडिया मामले में गिरफ्तारी से छूट दिए जाने का न्यायालय से अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि आईएनएक्स मीडिया मामले में उन्हें कर्ता-धर्ता बताने संबंधी दिल्ली उच्च न्यायालय की टिप्पणी पूर्णतय: निराधार है और इसकी पुष्टि करने वाली कोई सामग्री उपलब्ध नहीं है। इससे पहले दिल्ली उच्च न्यायालय ने मंगलवार को उन्हें अग्रिम जमानत देने से इनकार कर दिया। इसके तुरंत बाद सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम उनके घर पहुंच गई। हालांकि उस वक्त चिदंबरम अपने घर पर मौजूद नहीं थे और एजेंसियों को लौटना पड़ा। चिदंबरम गिरफ्तारी से राहत के लिए सुप्रीम कोर्ट भी पहुंचे लेकिन इसी बीच सीबीआई और ईडी की टीमें उनके घर पहुंच गईं। सबसे पहले सीबीआई के छह अफसरों की टीम उनके जोरबाग स्थित आवास पहुंची। सूत्रों के मुताबिक अफसरों ने घर की तलाशी ली लेकिन पूर्व वित्त मंत्री वहां नहीं मिले। सीबीआई अफसरों ने वहां मौजूद लोगों से जानकारी ली और लौट गए।

चिदंबरम के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया है।

सीजेआई रंजन गोगोई के पास भेजी चिदंबरम की याचिका

सुप्रीम कोर्ट के जज, जस्टिस एनवी रमना ने पी चिदंबरम की अग्रिम जमानत देने की याचिका सीजेआई रंजन गोगोई के पास भेजी

पी चिदंबरम मामले में अभी सुप्रीम कोर्ट के कोर्ट रूम में मौजूद हैं वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल, सलमान खुर्शीद और विवेक तनखा।

पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम के वकील पहुंचे सुप्रीम कोर्ट, दाखिल की स्पेशल लीव पिटिशन।

सरकार शर्मनाक तरीके से चिदंबरम के पीछे पड़ी: प्रियंका गांधी

आईएनएक्स मीडिया मामले में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका दिल्ली उच्च न्यायालय द्वारा खारिज किये जाने की पृष्ठभूमि में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को आरोप लगाया कि सरकार 'शर्मनाक तरीके से' चिदंबरम के पीछे पड़ी है क्योंकि वह बेहिचक सच बोलते हैं और सरकार की नाकामियों को सामने लाते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि वह चिदंबरम के साथ खड़ी हैं और सच के लिए लड़ाई जारी रखी जायेगी।

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर लिखा कि पी चिदंबरम को गिरफ़्तार करने की कल रात से जो भी कोशिश हो रही हैं, मैं उसकी निंदा करता हूं। सरकार हर काम राजनीतिक विद्वेष की भावना से क्यों कर रही है? ना एफआईआर में नाम, ना कोई प्रमाण। पर सीबीआई का ऐसा इस्तेमाल?
पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के आवास पर फिर से बुधवार सुबह सीबीआई की टीम पहुंची। चिदंबरम पर मंगलवार को दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा जमानत देने से इनकार किए जाने के बाद से ही गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया