रेल हादसा: कानपुर सेंट्रल पर ट्रेन के दो डिब्बे पटरी से उतरे, मची भगदड़

Updated on: 19 November, 2019 06:46 AM

कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन के चेंजिंग पॉइंट पर लखनऊ से आ रही एलसी के दो कोच पटरी से उतर गए। इससे लखनऊ और प्रयागराज की ओर से आने वाली ट्रेनें जहां-तहां रोक दी गई हैं। रेल दुर्घटना बुधवार सुबह करीब 7 बजे की बताई जा रही है। किसी यात्री के हताहत होने की सूचना नहीं है। इलाहाबाद मंडल के डीआरएम अमिताभ कुमार कानपुर के लिए रवाना हो गए हैं।

लखनऊ से आ रही पैसेंजर ट्रेन को प्लेटफार्म नंबर 3 पर सिग्नल दिया गया था। प्लेटफार्म नंबर 2 और 3 की कैंची के पास प्लेटफार्म नंबर 3 की ओर मुड़ते ही ट्रेन के दो कोच पटरी से उतर गए। तेज आवाज के चलते यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई। स्पीड कम होने के नाते कुछ कुछ ही दूरी पर गाड़ी रुक गई।

यात्रियों में मची भगदड़
ट्रेन के रुकते ही दुर्घटना मान रहे यात्री कूदकर भागने लगे। कुछ लोग हल्ला मचा रहे थे कि जल्दी उतरो नहीं तो पूरी पूरा कोच पलट जाएगा। स्टेशन के पास की घटना होने के नाते कुछ ही देर में जीआरपी और आरपीएफ के जवान पहुंच गए। पुलिस ने यात्रियों को भरोसा दिलाया कि आराम से उतरे कोई दुर्घटना नहीं हुई है। इसके बाद यात्रियों ने राहत की सांस ली है।

प्रयागराज और लखनऊ रेल रूट बंद, 18 ट्रेनें रोकी गई
चेंजिंग पॉइंट पर ट्रेन के पहिए पटरी से उतर जाने के कारण प्रयागराज और लखनऊ का ट्रैक भी फिलहाल बंद है। मुंबई से आ रही पुष्पक एक्सप्रेस, कानपुर-लखनऊ मेमू, प्रयागराज इंटरसिटी, जबलपुर से आ रही चित्रकूट एक्सप्रेस समेत 18 ट्रेनें रोकी गई है। सभी राजधानी और शताब्दी ट्रेन सुबह पास हो चुकी थी।

रेलवे की एआरटी मौके पर पहुंची
दुर्घटना के करीब आधे घंटे बाद एक्सीडेंट रिलीफ ट्रेन मौके पर पहुंच गई है। इंजन के पीछे वाले सुरक्षित खोज काट कर अलग कर किए जा रहे हैं। लखनऊ और प्रयागराज की ओर फिलहाल अभी मेंटेनेंस काम शुरू नहीं हो पाया। रेलवे अधिकारियों का दावा है कि 9:30 बजे तक रेल रूट बहाल कर देंगे। रेलवे का इंजीनियरिंग स्टाफ मौके पर पहुंच गया है और काम शुरू कर दिया है।

लखनऊ से निज संवाददाता के अनुसार कानपुर जा रही लखनऊ-कानपुर एलसी के बुधवार को चार डिब्बे पटरी से उतर गए। इससे स्टेशन पर हड़कंप मच गया। ट्रेन कानपुर स्टेशन पर सुबह करीब 6.30 बजे प्लेटफॉर्म नंबर तीन पर ट्रैक बदलते समय बेपटरी हो गई। किसी के हताहत होने की सूचना नहीं मिली है। इससे कानपुर-लखनऊ रुट पर ट्रेनों का संचालन ठप हो गया।
रेल अधिकारियों की माने तो ट्रेन की स्पीड धीमी थी, इससे हादसा बड़ा नहीं हुआ। स्टेशन पर हादसे में किसी भी यात्री को कोई नुकसान नहीं हुआ।
कानपुर के रास्ते लखनऊ और इलाहाबाद जाने वाली ट्रेनें रोक दी गईं। चारबाग और लखनऊ जंक्शन आने वाली पुष्पक एक्सप्रेस, पनकी-लखनऊ जंक्शन मेमू, कोटा पटना, चित्रकूट समेत कई ट्रेन दो घंटे देरी से पहुंची।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया