वाराणसी के डाकघर में गबनः रोजाना 50 से अधिक खातेदारों की आ रही शिकायतें

Updated on: 20 October, 2019 12:35 PM

कैंट प्रधान डाकघर के खातों से गायब हुए रकम हर बढ़ती जा रही है। डाक विभाग ने इसकी जांच शुरू कर दी है। अभी तक हुए 50 से अधिक खातों की जांच में एक करोड़ से अधिक गायब हुए हैं। खातों की जांच कराने व शिकायतों के आने का सिलसिला बुधवार को भी जारी रहा।
वाराणसी डाक परिक्षेत्र के पोस्टमास्टर जनरल प्रणव कुमार ने बताया कि डाक विभाग के 12 इंस्पेक्टर खातों से गायब हुई रकम की जांच कर रहे हैं। अभी तक 50 से अधिक खातों की जांच हो चुकी है। इसमें एक करोड़ रुपये से अधिक गायब हुए हैं।

अभी और खातों की जांच हो रही है। अभी तक करीब चार सौ शिकायतें आई हैं। उनका दावा है कि शुक्रवार तक जांच रिपोर्ट आ जाएगी। मगर अभी काफी शिकायतें हैं और प्रतिदिन 50 से अधिक शिकायतें आ रही हैं। उधर, बुधवार को भी काउंटर पर खातों की जांच कराने के लिए भीड़ लगी रही। सौ से अधिक खाताधारकों ने खातों की जांच कराई, जिसमें 50 से अधिक लोगों ने खातों से रकम गायब होने की शिकायत की।

पुलिस नहीं कर रही एफआईआर
प्रणव कुमार ने बताया कि पुलिस डाक विभाग की एफआईआर दर्ज ही नहीं कर रही है। रविवार को ही तहरीर दी गई है। इस संबंध में डीआईजी व एसएसपी से भी बात हुई। फिर भी रिपोर्ट दर्ज नहीं की गई है। वहीं, कैंट इंस्पेक्टर का कहना है कि तहरीर में उन खाताधारकों का नाम नहीं दिया गया है, जिनके खातों से रुपये गायब हुए हैं।

फर्जी मोहर से निकाले पैसे
पांडेयपुर के राजकुमार केशरी ने बताया कि मेरी पासबुक पर फर्जी मोहर लगाकर करीब चार लाख रुपये निकाल लिए गए हैं। दूसरे का खाता नंबर चढ़ाकर एक अन्य खाते से भी पैसा निकाला गया है। वहीं जितेंद्र, पवन व देवेश का फर्जी हस्ताक्षर करके पैसा निकाला गया है।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया