8 घंटे में चिन्मयानंद से 150 सवाल, छात्रा से करीबी संबंध? बर्थडे पार्टी? यौन शोषण? पढ़ें स्वामी के जवाब

Updated on: 18 November, 2019 02:44 AM

आठ घंटे में डेढ़ सौ सवालों के जवाब स्वामी चिन्मयानंद(Chinmayanand Case) ने दिए। प्रकरण से जुड़े एक-एक व्यक्ति को लेकर एसआईटी ने सवालों की लंबी लिस्ट बना रखी थी। इस मामले में सूत्रों ने बताया कि कठिन सवाल भी तैयार किए गए। कुछ सवाल तो प्रकरण से बाहर के भी थे, जिन्हें एसआईटी केस से जुड़ा मानती होगी। मसलन कॉलेज में प्राचार्य की नियुक्ति कौन और कैसे करता है। लड़की, संजय, रंगदारी, दुराचार को लेकर तो सवाल स्वामी से किए ही गए।

एक टीवी चैनल पर स्वामी चिन्मयानंद के वकील ओम सिंह ने जवाब दिए। चैनल की ओर से वही सवाल पूछे गए, जो संभवत: एसआईटी ने स्वामी चिन्मयानंद से किए थे। टीवी चैनल को जवाब देने के लिए खुद स्वामी चिन्मयानंद तो मौजूद नहीं थे, लेकिन उनकी जगह पर सवालों के जवाब उनके वकील ने दिए। सूत्र बताते हैं कि स्वामी चिन्मयानंद से करीब 150 सवाल पूछे गए, जिसका जवाब देने में आठ घंटे लग गए।

इस तरह पूछे गए कई सवाल

सवालों के जवाब में स्वामी के स्थान पर वकील ने टीवी चैनल को बताया कि मेरे कॉलेज की स्टूडेंट है जितना और छात्र छात्राओं से परिचय रहता है उतना ही छात्रा को भी जानते हैं। दूसरा सवाल था कि क्या वह आपके कॉलेज परिसर के अंदर बने हुए गर्ल्स हॉस्टल के रूम में छात्रा रहती है। इसका जवाब आया कि इसकी जानकारी कॉलेज के प्राचार्य को होगी, क्योंकि समस्त व्यवस्था वही देखते हैं। तीसरा सवाल किया गया कि छात्रा से आपके करीबी संबंध हैं, इसका प्रमाण उस फोटो से भी मिलता है जिसमें उसके बर्थडे पार्टी में आप उसके साथ खड़े हुए नजर आ रहे हैं। वकील ने जवाब देते हुए कहा कि मात्र एक संयोग मात्र है। उस दिन कॉलेज में उसका बर्थडे था, मुझे उसमें बुलाया गया और मैं वहां पर एक छात्रा के बर्थडे के नाते वहां चला गया। फिर सवाल किया गया कि आप के कहने पर ही छात्रा को कॉलेज में नौकरी दी गई थी? जवाब में कहा गया कि यह नियुक्ति अस्थाई है, कॉलेज के प्राचार्य के स्तर पर नियुक्तियां की जाती हैं। मुझे संबंध में कोई जानकारी नहीं है। सवाल था कि आरोप लगाने वाली छात्रा की कॉलेज फीस में भी आपने छूट की थी। जवाब-निर्धन छात्र-छात्राओं के लिए यह सुविधा कालेज में उपलब्ध है, आग्रह के तहत इसमें छूट दी गई। टीवी चैनल की ओर से सवाल किया गया कि छात्रा का आपके आवास पर भी आना जाना था। जवाब था कि कॉलेज और आश्रम में बने दिव्य धाम करीब करीब हैं, जिस वजह से तमाम छात्र छात्राएं आश्रम की ओर आ जाते हैं, हो सकता है यह छात्रा भी इसी कारण यहां आई हो।

यौन शोषण के आरोपों को नकारा

इसके बाद सवाल किया गया कि छात्रा का आरोप है कि आपने उसका यौन शोषण किया। जवाब था कि आरोप निराधार हैं इसमें कोई सच्चाई नहीं है। सवाल-आप की ओर से रंगदारी मांगने का एक मुकदमा अज्ञात लोगों के खिलाफ लिखा गया है क्या आपको लगता है कि रंगदारी मांगने में यह लोग शामिल है। जवाब दिया गया कि इस मामले का मुकदमा दर्ज कराया गया है पुलिस इसकी जांच कर रही है वही निष्कर्ष पर पहुंचेगी। सवाल-क्या पीड़ित छात्रा के साथी संजय सिंह को जानते हैं। जवाब-वह भी हमारे कॉलेज के छात्र रहा है, इस नाते हो सकता है वह कभी मुझसे मिला हो, लेकिन मेरा व्यक्तिगत कोई भी उससे संबंध नहीं हैं।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया