वाराणसी: कर्मकांड कराने वाले गद्दी संचालक और पत्नी की गोली मारकर हत्या

Updated on: 20 October, 2019 05:47 PM

वाराणसी में शनिवार की सुबह फिर गोलियों की गूंज सुनाई दी। शहर के बीचोंबीच स्थित नई सड़क के पास काली महाल में पहले पति फिर पत्नी की गोली मार कर हत्या कर दी गई। पति पिशाच मोचन के गद्दीदार थे और वहीं कर्मकांड कराते थे। हत्या के पीछे भाइयों के साथ संपत्ति का विवाद सामने आ रहा है।

पिशाच मोचन पर कर्मकांड कराने वाले गद्दी संचालक केके उपाध्याय काली महाल में रहते थे। शनिवार की सुबह घर के बाहर पहले उन्हें गोली मारी गई फिर घर में घुसकर पत्नी की गोली मारकर हत्या कर दी गई। उस वक्त पत्नी बर्तन मांज रही थी। इससे पहले कि गोली की आवाज सुनकर लोग जुटते हमलावर फरार हो गए। एक साथ दो हत्याओं की खबर से सनसनी फैल गई। स्थानीय पुलिस के साथ आला अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए।

इन दिनों पितृ पक्ष के कारण पिचाश मोचन पर कर्मकांड कराने वालों की भीड़ लगी है। केके उपाध्याय की जजमानी ज्यादा होने के कारण इनके यहां ज्यादा भीड़ रहती थी। जबकि भाइयों की कमाई उतनी नहीं है। इसे लेकर विवाद होता रहता था। घटना के बाद रोते बिलखते परिवार के सदस्य पुलिस वालों से यह भी कहते रहे कि पहले से घटना की आशंका जताई जा रही थी लेकिन कुछ नहीं किया गया। वाराणसी में लगातार नृशंस हत्याओं से दहशत की स्थिति है। पिछले एक महीने में पाइप कारोबारी, दिव्यांग पान विक्रेता, बुजुर्ग महिला दुकानदार की गोली मारकर हत्या की जा चुकी है।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया