इमरान के बाद जरदारी के बेटे बिलावल ने भी अलापा कश्मीर राग

Updated on: 20 October, 2019 02:33 AM

पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने पाकिस्तान सरकार से आग्रह किया है कि वह संयुक्त राष्ट्र संकल्पों द्वारा गारंटीकृत जनमत संग्रह के अधिकार के माध्यम से कश्मीरी लोगों को अपना भविष्य चुनने के लिए और अधिक जोर दे। डॉन समाचार पत्र ने अपनी रिपोर्ट में यह जानकारी दी।

आजाद जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी अब्दुल मजीद के मीरपुर स्थित आवास पर बुधवार को आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी कश्मीरियों के अधिकार के लिए प्रत्येक मंच पर आवाज पूरी कोशिश करेगी।
वे यहां भूकंप पीड़ितों से मिलने आए थे।

रिपोर्ट के अनुसार, भुट्टो जरदारी ने कहा, प्रत्येक कश्मीरी को अपने विवेक से अपना भविष्य चुनने का अधिकार है। और इसका एक-मात्र हल संयुक्त राष्ट्र के संकल्पों के अनुसार जनमत संग्रह कराना है। उन्होंने कहा, सरकार का मानना है कि (संयुक्त राष्ट्र महासभा में) प्रधानमंत्री का भाषण सर्वश्रेष्ठ था। शायद वह अच्छा भाषण था। लेकिन पीपीपी का मानना है कि हमें (पांच अगस्त) के ऐतिहासिक हमले पर जोर देना चाहिए।

उन्होंने कहा, जलवायु परिवर्तन, धन शोधन.. ये सब महत्वपूर्ण मुद्दे हैं लेकिन सबसे बड़ा मुद्दा पांच अगस्त से कश्मीरी लोगों को कैद किया जाना है और प्रधानमंत्री को इस पर जोर देना चाहिए। डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, पीपीपी चेयरमैन ने इससे पहले प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने के बाद भूकंप पीड़ितों का हाल जानने के लिए डिवीजनल हैडक्वार्टर्स हॉस्पिटल का दौरा किया।

संवाददाता सम्मेलन में एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने मांग की कि संघीय सरकार शेष पाकिस्तान के अनुसार ही भूकंप पीड़ितों को मुआवजा प्रदान करे। उन्होंने कहा, हमारी मांग है कि मुआवजा नुकसान को देखते हुए दिया जाए, जिसका आकलन करना मुश्किल नहीं है।

एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, एजेके के प्रधानमंत्री राजा फारूक हैदर ने पीपीपी के चेयरमैन से फोन पर बात की और भूकंप प्रभावित क्षेत्र का दौरा करने के लिए उनका आभार जताया। इसके जवाब में भुट्टो-जरदारी ने उनसे कहा कि वे, उनकी पार्टी और सिंध की सरकार भूकंप पीड़ितों की हर संभव मदद करने के लिए तैयार हैं। बिलावल ने कहा कि उन्होंने प्रभावित क्षेत्रों में पुनवार्स कार्यक्रम में एजेके सरकार की मदद करने का आग्रह किया है।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया