कानपुर : दिल्ली से हटिया जा रही झारखंड स्वर्ण जयंती एक्सप्रेस में डकैती

Updated on: 07 December, 2019 04:42 PM

आनंद विहार से हटिया जा रही झारखंड (स्वर्ण जयंती) एक्सप्रेस के दो जनरल कोच में असलहो से लैस डकैतों ने धावा बोल दिया। गहरी नींद में सो रहे करीब तीन दर्जन से अधिक यात्रियों को बंधक बनाकर मारा पीटा। नगदी, गहने और हाजरो रुपए के कीमती सामान लूट लिए। लूटपाट के बाद झींझक स्टेशन के पास चेन पुलिंग कर उतर गए। जीआरपी और आरपीएफ सिपाहियों ने 6 बदमाशों को दबोच लिया है।  पुलिस अनुमान लगा रही है कि सभी इटावा स्टेशन से ही कोच में सवार हो गए थे।

तमंचे से बट और डंडे से यात्रियों को पीटा
गुरुवार रात करीब पौने एक बजे झारखंड एक्सप्रेस फफूंद स्टेशन से पास हुई थी। कानपुर की ओर ट्रेन रवाना होते ही जनरल कोच में पहले से सवार बदमाशों लूटपाट शुरू कर दी। कुछ यात्रियों ने विरोध किया को असलहों से लैस बदमाशों ने डंडो से मारना पीटना शुरू कर दिया।  ट्रेन में सवार मूसापुर कोडा कटिहार के मोहम्मद मुन्ना के सिर पर तमंचे की बट से वार कर दिया। सिर फट गया तो वह लहुलूहान हालत में कोच में गिर गए। मुन्ना की हालत देख दूसरे यात्री सहम गए। महिलाएं, बच्चे चिल्लाने लगे। किसी के कान के बाले नोच लिए तो किसी के टाप्स उतरवा लिए। दशहत में आईं कुछ महिलाओं ने असलहा देख खुद ही अपने गहने उतार दिए।

चेनपुलिंग कर ट्रेन रोकी तो हरकत में आई पुलिस
करीब आधे घंटे तक बदमाशों ने दो जनरल कोचों में लूटपाट की। तब तक ट्रेन में तैनात पुलिस की एस्कोर्ट को कोई खबर नहीं थी। कंचौसी और झींझक स्टेशन के बीच चेन पुलिंग हुई तो जीआरपी और आरपीएफ जवान हरकत में आए। आधी रात के बाद ट्रेन से उतरकर कुछ लोगों को जाते देखा तो सिपाही भी ट्रेन से कूद गए और पैदल ही दौड़ा लिया। कुछ दूरी पर कार में बैठकर भागने की कोशिश कर रहे छह बमदमाशों को दबोच लिया।

रेलवे ट्रैक के पास ही एक कार (एचआर-50 एक्स-7360)  पहले से खड़ी थी। बदमाश इसी कार में बैठने की कोशिश में दौड़ लगा रहे थे। अंधेरा होने के नाते उन्हें इस बात की भनक नहीं लगी कि पीछे से सिपाही भी आ रहे हैं। जवानों के पहुंचते ही बदमाशों के बीच भगदड़ मच गई। कार में बैठ चुके 6 को पुलिस ने दबोच लिया तथा तीन अंधेरे का फायदा उठाकर भाग निकले।

लूटे गए मोबाइल, गहने और रुपए बरामद
जानकारी होने पर आरपीएफ और जीआरपी के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। कानपुर आरपीएफ के सहायक सुरक्षा आयुक्त एसनएन पांडेय नेब ताया कि पकड़े गए बमदाशों के पास से कार, यात्रियों के छीने गए मोबाइल, गहने और आठ हजार रुपए बरामद किए गए हैं। भागे तीनों बदमाशों की तलाश की जा रही है। डकैतों को पकड़ने वाले सिपाहियों को पुरस्कृत करने के लिए रिपोर्ट भेजी जाएगी।

स्लीपर कोच में दिल्ली के यात्री का मोबाइल लूटा
स्वर्ण जयंती एक्सप्रेस से लूटपाट कर भाग रहे बदमाशों ने एस-4 कोच में सफर कर रहे केशवपुरम दिल्ली निवासी अमर अवस्थी का मोबाइल छीन लिया। अमर दिल्ली से कानपुर अपने रिश्तेदार के यहां आ रहे थे। कानपुर आने पर अमर ने जीआरपी थाने में तहरीर दी। जीआरपी प्रभारी राममोहन राय ने बताया कि 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लूटपाट का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। घटना इटावा सेक्शन की होने के नाते विवेचना स्थानांतरित कर दी जाएगी।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया