वाराणसीः चौक से 80 लाख का सोना उड़ाने वाला शातिर रुपेश सेठ हत्थे चढ़ा

Updated on: 19 November, 2019 01:58 AM

कर्णघंटा से पिछले साल 80 लाख का सोना उड़ाने वाले शातिर 50 हजारी रुपेश सेठ को क्राइम ब्रांच व कैंट पुलिस ने कैंट स्टेशन के प्लेटफार्म नम्बर नौ से गुरुवार की देर रात गिरफ्तार कर लिया। उसके पास से .32 बोर की एक पिस्टल, कारतूस व 910 ग्राम कच्चा सोना बरामद किया। पुलिस के अनुसार सोने की कीमत 32 लाख रुपये है। रुपेश सेठ वाराणसी जोन के टॉप टेन अपराधियों में शामिल हैं और उस पर हत्या, हत्या के प्रयास व लूट के 46 मुकदमें दर्ज हैं।

एसएसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया कि क्राइम ब्रांच प्रभारी विक्रम सिंह और इंस्पेक्टर कैंट अश्विनी चतुर्वेदी को मुखबिर से सूचना मिली कि शातिर अपराधी कोनिया निवासी रुपेश सेठ कैंट स्टेशन पर खड़ा है। इस पर टीम ने घेरेबंदी करके उसे गिरफ्तार कर लिया। रुपेश के बताने पर दौलतपुर में उसकी छोटी बहन के घर से .32 बोर की पिस्टल, कारतूस व कच्चा सोना बरामद किया गया। रुपेश गुवाहाटी से आया था और किसी वारदात को अंजाम देने की तैयारी में था।

एसपी क्राइम ज्ञानेंद्र नाथ प्रसाद ने बताया कि वर्ष 2009 से पुलिस को रुपेश सेठ की तलाश थी। इस पर शहर के लगभग सभी थानों में कुल 46 केस दर्ज हैं। अपराध की दुनिया में रुपेश सेठ ने वर्ष 1997 में कदम रखा था। पहला मुकदमा चेतगंज थाने में हत्या के प्रयास का दर्ज हुआ। इसके बाद साथियों के साथ बनारस, भदोही, चन्दौली, गाजीपुर, जौनपुर, बिहार व आसाम में कई जगहों पर लूट व हत्या की वारदातों को अंजाम दिया।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया