आज से SBI चलाएगा आपकी बचत पर कैंची, आपको होगा इतना नुकसान

Updated on: 14 November, 2019 02:41 AM

आज यानी 1 नवंबर से एसबीआई बैंक (SBI Bank) ने 2 बड़े बदलाव कर दिए हैं जिसका सीधा असर आपकी बचत और जेब पर पड़ने वाला है। एसबीआई बैंक की डिपॉजिट दरें बदल गई हैं। आज से एसबीआई बैंक डिजीटल पेमेंट पर कोई भी चार्ज नहीं लेने वाला है। आइए जानते हैं आज से आपकी बचत पर एसबीआई कितनी कैंची चलाने वाला है और आप पर इसका कितना असर पड़ेगा।

आज से कम हो गई हैं एसबीआई की ब्याज दरें
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने अर्थव्यवस्था में लिक्विडिटी को देखते हुए बैंक डिपोजिट और फिक्स्ड डिपोजिट (FD) पर ब्याज कम कर दिया है। अब 1 लाख रुपये तक के बैंक डिपोजिट पर 3.50 फीसदी की जगह 3.25 फीसदी का सालाना ब्याज मिलेगा। ये नई ब्याज दरें आज 1 नवंबर 2019 से लागू हो गई हैं। एसबीआई बैंक का डिपोजिट बेस करीब 28 करोड़ रुपये का है। हालांकि, 1 लाख रुपये से अधिक बैलेंस के ब्याज में कोई बदलाव नहीं किया गया है। उन्हें 3 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा।
नंबर सेविंग बैंक डिपॉजिट स्लैब ब्याज दर (सालाना)
1डिपॉजिट अकाउंट 1 लाख रुपये तक बैलेंस3.25 फीसदी (1 नवंबर 2019 से लागू)
2 डिपॉजिट अकाउंट 1 लाख रुपये से अधिक बैलेंस

कोई बदलाव नहीं

3 फीसदी पूरे बैलेंस पर

डिजीटल पेमेंट पर नहीं देना होगा चार्ज
पीटीआई रिपोर्ट के मुताबिक सरकार ने बैंक से कहा है कि वह डिजीटल पेमेंट पर ग्राहकों से कोई चार्ज या मर्चेंट डिस्काउंट रेट न ले। ऐसा ग्राहकों और मर्चेंट के लिए किया गया है जिनका टर्नओवर 50 करोड़ रुपये से अधिक है। ये नया नियम 1 नवंबर से लागू होना है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपनी बजट स्पीच में कहा था कि जिनका सालाना टर्नओवर 50 करोड़ रुपये से अधिक है उन्हे कम लागत वाला डिजीटल पेमेंट मोड दिया जाएगा।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया