वाराणसीः गुरु के प्रकाशोत्सव पर निकली शोभायात्रा, पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया

Updated on: 05 April, 2020 08:13 AM

गुरुनानक देव के 550वें प्रकाशोत्सव पर लोगों को स्वच्छता और पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया गया। रविवार को गुरुबाग स्थित गुरुद्वारा से शोभायात्रा निकाली गई। महिलाओं और युवाओं ने सड़कों पर झाड़ू लगाकर सफाई की। शोभायात्रा में शबद कीर्तन करते हुए संगत चल रही थी। पंजाबी बैंड पर गुरुवाणी गूंज रही थी। स्कूल-कॉलेज की छात्राएं भी शबद कीर्तन कर रही थीं। पुष्पों से सुसज्जित वाहन पर गुरुग्रंथ साहिब की झांकी सजाई गई थी। डीएम व एसएसपी भी गुरुद्वारा पहुंचे थे।

शोभायात्रा दोपहर में गुरुद्वारा से उल्लास के माहौल में निकाली गई। गुरुग्रंथ साहिब के आगे पंच प्यारे चल रहे थे। गुरुनानक खालसा बालिका इंटर कॉलेज, गुरुनानक इंग्लिश स्कूल की छात्राएं अगल-अलग परिधान में नानक आया नानक आया, कल तारण गुरुनानक आया व बोले सो निहाल... आदि जयकारा लगाते चल रही थीं। हाथों में स्वच्छता व पर्यावरण संरक्षण के बैनर थे। युवा सड़कों की सफाई के साथ पुष्पवर्षा कर रहे थे।


एक वाहन पर हिन्दू, मुस्लिम व सिख व ईसाई धर्मगुरु बैठे थे। शोभायात्रा लक्सा, गिरजाघर, नई सड़क, चेतगंज, लहुराबीर, मलदहिया, सिगरा व रथयात्रा होते हुए देर शाम पुन: गुरुद्वारा पहुंची, जहां पर साध संगत ने गुरुग्रंथ साहिब पर मत्था टेका। लोगों ने गुरु का अटूट लंगर छका। गुरुद्वारा की आकर्षक सजावट की गयी है। गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के मुख्य ग्रंथी भाई सुखदेव सिंह ने बताया कि गुरु का प्रकाशोत्सव 12 नवम्बर को गुरुद्वारा में मनाया जाएगा। सोमवार को शाम से ही गुरुद्वारा में संगत पहुंचने लगेगी। शबद कीर्तन होगा

 विशाल शोभायात्रा का लहुराबीर चौराहे पर हिंदू युवा वाहिनी वाराणसी मंडल प्रभारी अम्बरीश सिंह भोला के नेतृत्व में हजारों कार्यकर्ताओं ने पुष्प वर्षा कर यात्रा का स्वागत किया गया

रिपोर्ट :- शिवम् सिंह चौहान

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया