पीड़ितों को अपशब्द कहते कोतवाल का वीडियो वायरल, बोले इतने केस दर्ज करूंगा नौकरी नहीं कर सकोगे

Updated on: 11 April, 2020 12:32 AM

यूपी के गोंडा जिले में भूमि विवाद के मामले में मनकापुर कोतवाल ने पीड़ितों को ही सार्वजनिक रूप से गाली देते हुए विपक्षी के लड़की से छेड़खानी की रिपोर्ट दर्ज कर पूरे परिवार को जेल भेजने की धमकी दी। दीवार को ट्रैक्टर से गिरा देने का फरमान ही नहीं सुनाया बल्कि अपने को क्षत्रिय कह कर एक पैर मार कर दीवार गिराने की धमकी दे डाली। इस पूरे गतिविधि का किसी ने वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। मामले की जांच के बाद एसपी ने आरोपित मनकापुर कोतवाल को हटा दिया है।

जानकारी के अनुसार मनकापुर कोतवाल महादेवा गांव में दो भाइयों के विवाद का निस्तारण करने मौके पर गए थे। एक भाई ने 7 फीट ऊंची दीवार उठा कर छप्पर रख लिया। दूसरे भाई सुखराम का आरोप था कि भाई धर्मेंद्र ने रास्ते पर दीवार उठा कर रास्ता बंद कर दिया है। जबकि धर्मेंद्र का कहना है कि पुरानी नींव पर अपने हिस्से में दीवार उठाई है। भाई का रास्ता सामने से है लेकिन वहीं भाई सुखराम का तर्क था कि सामने चरी बोए है गाय भैंस है कहां उनके खिलायेंगे। कोतवाल प्रमोद सिंह दल बल के साथ मौके एक पक्ष व दूसरे पक्ष के लड़कों के सामने गांव के कुछ लोगों से पूछा कि सच्चाई क्या है तो किसी ने कहा कि रास्ता इधर से था दीवार गलत बना लिया है फिर क्या था कोतवाल ने बिना दोनों पक्षों और राजस्व से जानकारी किये फैसला सुना दिया कि ट्रैक्टर से दीवार गिरा दो या कहो तो एक ही पैर मार कर गिरा नहीं दिया तो ठाकुर का औलाद नहीं,यही नहीं कोतवाल ने दूसरे पक्ष के एक लड़के को गालियों की बौछार लगाते हुए यहां तक धमकी दे दी की दूसरे पक्ष के लड़की से छेड़ खानी का मुकदमा लिखकर पूरे परिवार को जेल भेज दूंगा,फिर सरकारी नौकरी नहीं पाओगे जिंदगी बर्बाद हो जाएगी।

मजे की बात यह है कि कोतवाल के फरमान को विपक्षियों ने पालन कर दीवार तोड़ दी और छप्पर में आग लगा दिया। परिजनों महिलाओ की पिटाई भी कर दी गयी। परिवार सहमा हुआ है मुकदमे के डर से अधिकांश लोग घर छोड़ कर अज्ञातवास में है। इस सम्बन्ध में अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र कुमार ने बताया कि अभी वीडियो मेरे समक्ष आया नहीं है। पता नहीं फेक है या सही। जांच कर कार्यवाही की जाएगी।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया