जानें, महाराष्ट्र में कब हटा राष्ट्रपति शासन और फडणवीस को कब तक साबित करना है बहुमत

Updated on: 15 July, 2020 01:20 AM

महाराष्ट्र में शनिवार तड़के पांच बजकर 47 मिनट पर राष्ट्रपति शासन हटाए जाने के बाद भाजपा-एनसीपी सरकार ने प्रभार संभाला। गृह मंत्रालय की एक अधिसूचना के अनुसार, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार सुबह राष्ट्रपति शासन को समाप्त करने की घोषणा की। इस आशय का राज-पत्र केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला ने सुबह पांच बजकर 47 मिनट पर जारी किया।

राष्ट्रपति शासन हटने के बाद भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के देवेंद्र फड़णवीस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अजित पवार ने महाराष्ट्र के क्रमश: मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली। अब सीएम देवेंद्र फडणवीस को 30 नवंबर तक बहुमत साबित करना है।


मुख्यमंत्री की शपथ लेने के बादफडनवीस ने कहा कि महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के पूर्व हमारा गठबंधन शिवसेना के साथ हुआ था लेकिन चुनाव के बाद शिवसेना हमारा गठबंधन तोड़कर कांग्रेस और एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनाने की कोशिश कर रही थी। उनका आपस में तालमेल नहीं होने के कारण आज हमने राकांपा के साथ मिलकर महराष्ट्र को एक स्थिर सरकार देने की कोशिश की है। अजीत पवार ने शपथ लेने के बाद कहा कि पिछले कई दिनों से कांग्रेस और शिवसेना के साथ हमारी बात चल रही थी लेकिन बातचीत किसी नतीजे पर नहीं पहुचंने के कारण और महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन को समाप्त करने के लिये हमने भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनायी है।

सदन का समीकरण
कुल सीटें 288
भाजपा 105
शिवसेना 56
एनसीपी 54
कांग्रेस 44

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया