केजरीवाल को मिला प्रशांत किशोर का साथ, दिल्ली विधानसभा चुनाव में AAP के लिए करेंगे काम

Updated on: 30 March, 2020 06:14 PM

आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार सुबह ट्वीट करके दिल्ली चुनाव के संबंध में एक बड़ी घोषणा की है। केजरीवाल ने ट्वीट करके बताया है कि प्रशांत किशोर की कंपनी आई पैक दिल्ली विधानसभा चुनाव में 'आप' के लिए काम करेगी। आपको बता दें कि बिहार में प्रशांत किशोर की आज मुख्यमंत्री नीतिश कुमार से मुलाकात होनी है। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जेडीयू में प्रशांत किशोर का विरोध हो रहा है क्योंकि उनकी राय पार्टी से अलग है।


आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार सुबह ट्वीट करके दिल्ली चुनाव के संबंध में एक बड़ी घोषणा की है। केजरीवाल ने ट्वीट करके बताया है कि प्रशांत किशोर की कंपनी आई पैक दिल्ली विधानसभा चुनाव में 'आप' के लिए काम करेगी। आपको बता दें कि बिहार में प्रशांत किशोर की आज मुख्यमंत्री नीतिश कुमार से मुलाकात होनी है। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर जेडीयू में प्रशांत किशोर का विरोध हो रहा है क्योंकि उनकी राय पार्टी से अलग है।
आपको बता दें कि बिहार सरकार के सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के मंत्री व जदयू के वरिष्ठ नेता नीरज कुमार ने पार्टी के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर को सलाह दी है कि वे अपने बारे में भ्रम न पालें। वोट के गणित को देखें।

नागरिकता संशोधन बिल पर जदयू के स्टैंड से खफा प्रशांत किशोर ने बुधवार को ट्वीट कर कहा था कि नागरिक संशोधन बिल का समर्थन करने के पहले जेडीयू नेतृत्व को उन लोगों के बारे में सोचना चाहिए, जिन्होंने 2015 में उन पर विश्वास और भरोसा जताया था। हमें नहीं भूलना चाहिए की 2015 की जीत के लिए पार्टी और इसके प्रबंधकों के पास जीत के बहुत रास्ते नहीं बचे थे।

इस मुद्दे पर लगातार दो दिन ट्वीट कर अपनी आपत्ति जताने वाले किशोर का नाम लिए बिना ही नीरज कुमार ने इशारों ही इशारों में जवाब दिया है। गुरुवार की सुबह अपने ट्वीट में कहा कि नीतीश कुमार विचार और कर्म से धर्मनिरपेक्ष हैं। यह दर्पण की तरह साफ है। काम ही उनकी पहचान है।

उन्होंने प्रशांत किशोर को सलाह दी कि भ्रम न पालें, वोट के गणित को देखें। नीतीश कुमार के नेतृत्व एवं जनादेश से स्पष्ट हो जाएगा। गौर करें 2015 विधानसभा चुनाव (64.17 लाख) की तुलना में 2019 लोकसभा चुनाव (89.02 लाख) में जदयू के वोटों में 39% (24.85 लाख) का इजाफा हुआ। ज्ञानवर्द्धन करें।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया