नोएडा एसएसपी के तीन कथित वीडियो हुए वायरल, मचा हड़कंप

Updated on: 04 April, 2020 05:39 AM

नए साल के पहले दिन गौतमबुद्ध नगर के एसएसपी के तीन कथित वीडियो बुधवार को वायरल हो गए। इससे पुलिस अधिकारियों में हड़कंप मच गया। इनमें वह लेटे हुए लड़की से चैटिंग करते दिखाई दे रहे हैं। माना जा रहा है कि इस वीडियो को चैट करने वाली लड़की ने खुद ही रिकार्ड किया है और फिर उसे साजिश के तहत वायरल किया गया है।

कथित वीडियो के वायरल होने के बाद देर शाम करीब साढ़े आठ बजे एसएसपी वैभव कृष्ण ने अपने कैंप आवास पर पत्रकार वार्ता बुलाई, जिसमें उन्होंने कहा कि उनके नाम से तीन फर्जी वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल किए जा रहे हैं, जिनमें पीछे से किसी लड़की की आवाज सुनाई दे रही है। यह वीडियो साजिश के तहत उन्हें बदनाम करने के लिए वायरल किए गए हैं।

उन्होंने कहा कि उनके द्वारा भ्रष्टाचार से संबंधित कुछ अति संवेदनशील प्रकरणों में प्रशासनिक रिपोर्ट एक माह पहले मुख्यमंत्री कार्यालय को भेजी गई थी। जिसमें कुछ अधिकारियों, पत्रकारों, सफेदपोशों के नाम थे। इसके साथ हीकई बड़े भ्रष्टाचार से जुड़े मामलों और दलाली व उगाही करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की गई थी।

उन्होंने बताया कि इस सबके बाद से ही वह बौखलाए हुए थे और संभवत: उन्होंने ही यह साजिश रची है। इस मामले में सेक्टर 20 थाने में अज्ञात के खिलाफ आईटी एक्ट के सेक्शन 67 और 67 ई में मुकदमा दर्ज किया गया है।

पुलिस ही नहीं अन्य विभागों में भी था खेल : इन आरोपियों द्वारा सिर्फ पुलिस में ही नहीं बल्कि अन्य विभागों में भी ट्रांसवर पोस्टिंग का खेल खेला जाता था। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि वह प्रशासन, स्वास्थ्य, नगर निगम आदि विभागों में भी तबादला कराने का ठेका ले रहे थे। इसके साथ ही वह विभिन्न विभागों में ठेकों के खेल से भी जुड़े थे और वह प्रदेश सरकार के अनेक कद्दावर लोगों से जुड़े थे।

गैर जनपद से विवेचना कराने को रिपोर्ट भेजी
एसएसपी ने कहा कि इस मामले में उन्होंने आईजी मेरठ जोन को रिपोर्ट भेजकर उनसे अनुरोध किया है कि वह इस मामले की विवेचना अन्यत्र किसी जनपद से निष्पक्ष रूप से करायें, ताकि इन अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई हो सके।

वीडियो के वायरल होने को गंभीर माना
एसएसपी द्वारा कुछ बड़े मामलों की रिपोर्ट मुख्यमंत्री कार्यालय भेजी गई थी और उनकी विवेचना चल रही थी। इस विवेचना के दौरान ही इस कथित वीडियो के वायरल होने को गंभीर माना जा रहा है। यह वीडियो कहां से आया और कहां से फॉरवर्ड किया गया, इसकी जांच में पुलिस टीमें जुट गई हैं।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया