गांवों में स्वास्थ्य विभाग की टीम से लोगों ने पूछ लिया ये अजीब सवाल

Updated on: 08 April, 2020 09:48 PM

कड़ाके की ठंड में फाइलेरिया का नाइट सर्वे अभियान दुश्वारियों भरा हो गया है। ब्लाक के अधिकांश गांवों में रात में जब स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंचती है तो लोग सोते रहते हैं। कई बार तो रात में अधिकारियों-कर्मचारियों को देखकर सवाल भी दागते हैं, जब दिन में सरकारी विभागों में कोई काम नहीं करता तो भला ऐसा कौन सा विभाग हो गया जो रात में अभियान चला रहा है। हालत यह है कि गांववालों को समझाने और खुद को सरकारी विभाग का बताने में ही टीम को 1-2 घंटे लग जाते हैं। यह बड़ी वजह रही कि 3 दिन की समय सीमा पूरी होने के बाद भी नाइट सर्वे अभियान पूरा नहीं हो सका है। इसे और बढ़ाया जा रहा है।

स्वास्थ्य विभाग फाइलेरिया के लिए नाइट सर्वे अभियान चला रहा है। इसके तहत 6 ब्लाक में रात में 8 बजे से 12 बजे तक सर्वे किया जा रहा है और सैंपल लिए जा रहे हैं। मौसम में गलन होने की वजह से कई दिनों से कड़ाके की ठंड पड़ रही है। इसके चलते अभियान भी प्रभावित हो रहा है। गांवों में जब स्वास्थ्य विभाग की टीमें सैंपल लेने पहुंचती हैं, तब तक घरों में लोग सो चुके होते हैं या सोने की तैयारी में होते हैं। सबसे बड़ी परेशानी तो यह है कि लोग शुरू में यकीन करने को ही तैयार नहीं हो रहे हैं कि फाइलेरिया के लिए स्वास्थ्य विभाग इतनी ठंडक में सर्वे करने निकला है।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया