अरविंद केजरीवाल 16 फरवरी को रामलीला मैदान में लेंगे दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की शपथ

Updated on: 06 July, 2020 10:15 PM

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में एक बार फिर से प्रचंड जीत हासिल करने वाले आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविंद केजरीवाल 16 फरवरी को दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। समाचार एजेंसी एएनआई ने यह जानकारी दी है। आम आदमी पार्टी प्रमुख अरविंद केजरीवाल 16 फरवरी को दिल्ली के रामलीला मैदान में मुख्यमंत्री पद की शपत लेंगे। इस तरह से वह तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री बनेंगे।

दरअसल, दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी ने साल 2015 की तरह ही जबरदस्त जीत हासिल की है। आम आदमी पार्टी ने इस चुनाव में 62 सीटें अपने नाम की हैं। हालंकि, पिछली बार से 6 सीटें कम है। वहीं बीजेपी को इस चुनाव में 8 सीटें मिली हैं। कांग्रेस का पिछली बार की तरह ही इस बार भी खाता नहीं खुला और उसके करीब 67 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई।

अगर वोट फीसदी की बात करें तो आप ने 62 सीटों पर जीत हासिल की और उसकी वोट हिस्सेदारी 53.57 प्रतिशत रही । भाजपा को 38.51 प्रतिशत वोट मिले। कांग्रेस का खाता नहीं खुला और उसकी वोट हिस्सेदारी 4.26 प्रतिशत रही।

आप की प्रचंड जीत के साथ ही नई कैबिनेट को लेकर चर्चा शुरू हो गई है। नई कैबिनेट में कई नए नाम आने को लेकर चर्चाएं तेज हो गई हैं। हालांकि, आप की तरफ से इस बाबत कोई बोलने को तैयार नहीं है। आम आदमी पार्टी यानी आप 62 सीट जीतकर फिर सरकार बनाने जा रही है। आप के सभी कैबिनेट मंत्री जीतने में कामयाब रहे। इनमें मनीष सिसोदिया, सत्येंद्र जैन, गोपाल राय, कैलाश गहलोत, राजेंद्र पाल गौतम शामिल हैं।

वहीं, आप संगठन को मजबूत कर रहे नेता भी इस बार जीतकर विधानसभा पहुंचे हैं। इनमें दिलीप पांडेय, आतिशी व राघव चड्ढा समेत कई नेता शामिल हैं। वहीं, ऐसे कई नेता हैं जो तीसरी बार विधायक बने हैं। तीसरी बार विजय मिलने के बाद एक बार फिर आप के राष्ट्रीय विस्तार की चर्चा तेज हो गई है। ऐसे में इस बार कैबिनेट का संतुलन महत्वपूर्ण माना जा रहा हैं, जिसे देखते हुए कयास लगाए जा रहे हैं कि कैबिनेट में नए चेहरों को जगह मिल सकती हैं।

केजरीवाल आज चुने जा सकते हैं विधायक दल के नेता
आप को मिली प्रचंड जीत के बाद सरकार के दोबारा औपचारिक गठन की तैयारी शुरू कर दी गई है। बुधवार दोपहर में आप के विधायक दल की बैठक होगी, जिसमें अरविंद केजरीवाल विधायक दल के नेता चुने जा सकते हैं। सूत्रों का कहना है कि विधायक दल का नेता चुनने के बाद उपराज्यपाल को सरकार बनाने का प्रस्ताव दिया जाएगा।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया