डोनाल्ड ट्रंप की सुरक्षा में छावनी में तब्दील होगा आगरा, 250 NSG कमांडो और पैरा मिलिट्री की 10 कंपनियों का रहेगा पहरा

Updated on: 30 March, 2020 06:54 PM

आगरा में लगभग पांच हजार पुलिस कर्मी तैनात हैं। इससे अधिक फोर्स बाहर से आ रहा है। 22 फरवरी को ताजनगरी पुलिस छावनी में तब्दील हो जाएगी। कोई गली, मोहल्ला और सड़क ऐसी नहीं बचेगी जहां हथियारबंद जवानों का डेरा नहीं होगा।

एसएसपी बबलू कुमार ने बताया कि सिर्फ पुलिस कर्मी ही सुरक्षा के लिए नहीं लगाए जा रहे हैं। दस कंपनी पैरा मिलिट्री, पांच कंपनी पीएसी, 250 एनएसजी कमांडों भी ड्यूटी के लिए आ रहे हैं। फोर्स को ठहराने की जिम्मेदारी थाना प्रभारियों को दी गई है। स्कूलों का अधिग्रहण किया जाएगा। लगभग 2000 अमेरिकी जवान भी सुरक्षा के लिए जाएंगे। ट्रंप के चारों तरफ अमेरिकी सुरक्षा कर्मियों का घेरा रहेगा। पुलिस कर्मी भी उनके पास तक नहीं जा पाएंगे।

तैयारियों का जायजा लेने जल्द ही लखनऊ से एडीजी सिक्योरिटी आगरा आ सकते हैं। यह भी संभव है कि एडीजी कानून व्यवस्था और डीजीपी भी ट्रंप के आगमन से पहले आगरा आएं।

एक-एक बच्चे का होगा सत्यापन
ट्रंप के आगमन पर सड़क किनारे स्कूली बच्चों से स्वागत की योजना है। सड़क किनारे किस स्कूल के बच्चे रहेंगे। कौन बच्चा कहां का निवासी है। स्कूल से कौन-कौन शिक्षक आएंगे। चौराहों पर जो कलाकार सांस्कृतिक प्रस्तुति देंगे वे कौन हैं। कहां से आ रहे हैं। कहां ठहर रहे हैं। उनके मोबाइल नंबर क्या हैं। यह सभी जानकारी पुलिस को जुटाने के लिए कहा गया है। बिना पुलिस सत्यापन के कोई भी 24 फरवरी को फतेहाबाद मार्ग पर नहीं जा पाएगा।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया