यूपी : जेल में बंद भाइयों की कलाई पर राखी नहीं बांध सकेंगी बहनें

Updated on: 12 August, 2020 12:24 PM

जेलों में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर उत्तर प्रदेश सरकार ने रक्षाबंधन पर्व पर कैदियों की बहनों से होने वाली मुलाकात पर रोक लगा दी है। आधिकारिक सूत्रों ने सोमवार को कहा कि ऐसा कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिये एहतियात के तौर पर किया गया है हालांकि बहनें जेल में बंद भाइयों को राखी और रोली लिफाफे में बंद कर दे सकती है। इसके लिये हर जेल में विशेष काउंटर की व्यवस्था की गई है। मिष्ठान आदि देने की मनाही है।

उन्होने बताया कि एक अगस्त शाम चार बजे तक जेल के गेट पर बहने एक लिफाफे में कैदी का नाम लिखकर राखी और रोली दे सकती है। मिलने वाले लिफाफों में बंद सामग्री को पूरी तरह सैनीटाइज करने के बाद कैदियों को दिया जायेगा। रक्षाबंधन वाले दिन जेलों में विशेष भोजन की व्यवस्था की जायेगी।

सूत्रों ने बताया कि इस संबंध में आदेश सभी जेल अधिकारियों को भेजे जा चुके है। गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों के दौरान राज्य की विभिन्न जेलों में कोरोना के कई मामले प्रकाश में आये है जिसके बाद विशेष सर्तकता बरती जा रही है।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया