राममंदिर भूमिपूजन: गोरखनाथ मंदिर पहुंची श्रीराम झांकी, पवित्र मिट्टी लेकर अयोध्या रवाना हुआ दल

Updated on: 12 August, 2020 12:40 PM

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पांच अगस्त को अयोध्या में राममंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे। भूमि पूजन के समय देश भर के तीर्थ स्थलों की मिट्टी राममंदिर की नींव में पड़ेगी। बुधवार को गोरखनाथ मंदिर से विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल कार्यकर्ताओं का एक दल पवित्र मिट्टी और धूनी लेकर रवाना हुआ।

गोरखनाथ मंदिर प्रबंधन के सचिव द्वारिका तिवारी ने विहिप कार्यकर्ताओं द्वारा मुख्य मंदिर में पूजन-अर्चन के बाद उन्हें मिट्टी और धूनी सौंपी। इसके पहले विहिप कार्यकर्ताओं ने अपने महानगर कार्यालय से गोरखनाथ मंदिर तक भगवान श्रीराम की झांकी निकली। इस दौरान कार्यकर्ता मास्क और फेस शील्ड लगाए थे। फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए आगे बढ़ रहे थे। गोरखनाथ मंदिर में द्वारिका तिवारी ने झांकी का स्वागत किया। उन्होंने मंदिर की कुछ मिट्टी और अखंड धूनी ताम्र कलश में रखकर गोरक्षनाथ भगवान का पूजन कराकर विहिप पदाधिकारियों को सौंपी।

इस मौके पर द्वारिका तिवारी ने कहा कि यह सौभाग्य का अवसर है कि अयोध्या में राममंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त हो गया और गोरखनाथ मंदिर की मिट्टी वहां जा रही है। उन्होंने बताया कि गोरक्षपीठ का जुड़ाव राममंदिर आंदोलन से हमेशा से रहा। बजरंग दल के सह प्रांत संयोजक दुर्गेश त्रिपाठी ने कहा कि यह सौभाग्य का विषय है कि विहिप कार्यकर्ताओं को गोरक्षधाम की मिट्टी अयोध्या ले जाने का मौका मिला है। सदियों से गोरक्षपीठ का नाता राम मंदिर आंदोलन से रहा है। इससे भी महत्वपूर्ण यह है कि आज गोरक्षपीठाधीश्वर महंत योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं। उन्होंने विश्व के सामने अयोध्या को एक अद्भुत और अद्वितीय रूप मे निखारने का प्रण लिया है। उनके गुरु ब्रहमलीन गोरक्षपीठाधीश्वर महंत अवेद्यनाथ का सपना अब साकार हो रहा है। उनकी आंखों में राममंदिर बसता था जिसका भूमि पूजन आगामी पांच अगस्त को होना है।

उन्होंने कहा कि सनातन धर्म शास्त्र के अनुसार किसी भी धार्मिक आयोजन में धरती मां का आशीर्वाद जरूरी है। इसी क्रम में देश की सभी नदियों से जल व तीर्थों से मिट्टी लेकर राम मंदिर की नींव में डाली जाएगी। राम मंदिर के जरिए सम्पूर्ण भारत की एकात्मता का संदेश भी पूरे विश्व में जाएगा। इस दृष्टि से भी मंदिर निर्माण में पूरे राष्ट्र की सहभागिता सुनिश्चित करने का अभियान चलाया जा रहा है। कार्यक्रम में मुख्य रूप से प्रांत समन्वय प्रमुख विष्णु प्रताप सिंह, महानगर संयोजक अशोक गुप्ता, अनुराग खेमका, मुकेश दुआ, सुगम सिंह, संजय श्रीवास्तव, गौरव राय और रामानंद मौजूद रहे। अगुवाई विश्व हिन्दू परिषद की युवा शाखा बजरंग दल के सह प्रांत संयोजक दुर्गेश त्रिपाठी, विहिप के विभाग संगठन मंत्री अमरजीत, विहिप महानगर अध्यक्ष विजय खेमका और विहिप मंत्री मुकुन्द शुक्ल ने की।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया