कोरोना वायरस की वैक्सीन को लेकर एस्ट्राजेनेका ने दी खुशखबरी, ट्रायल में आए रिजल्ट से गदगद हैं शोधकर्ता

Updated on: 12 August, 2020 11:53 AM

कोरोना वायरस पूरी दुनिया में लाशों की ढेर लगा रहा है, लेकिन अब तक इसे काबू में करने का कोई तरीका सामने नहीं आया है। विशेषज्ञ मान चुके हैं कि कोरोना वायरस का अंत अब वैक्सीन से ही होगा, जिसे लेकर अलग-अलग देशों में ट्रायल जारी है। इस बीच दवा कंपनी एस्ट्राजेनेका ने कोरोना वायरस वैक्सीन को लेकर खुशखबरी दी है। ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के साथ पार्टनरशिप में विकसित की जा रही एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन अब तक के ट्रायल में बेहतर नतीजे दिए हैं। एस्ट्राजेनेका ने कहा कि कोविड-19 वैक्सीन के ट्रायल में उसे अब तक बहुत अच्छे डेटा मिले हैं।

दरअसल, दुनिया में अब तक एक भी कोरोना वायरस वैक्सीन को मंजूरी नहीं मिली है मगर वैक्सीन बनाने की रेस में अब तक एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन को सबसे आगे माना जा रहा है। क्योंकि इसके शुरुआती ह्यूमन ट्रायल में बेहतर नतीजे सामने आए थे और यह पूरी तरह से न सिर्फ सेफ है, बल्कि इसने इम्यून रिस्पॉन्स भी डेवलप किया। बता दें कि इस वैक्सीन के तीसरे चरण का ह्यूमन ट्रायल जारी है।

मुख्य कार्यकारी पास्कल सोरियट ने गुरुवार को मीडिया से बातचीत में कहा, 'वैक्सीन बनाने का काम अच्छी तरह से प्रगति कर रहा है। वैक्सीन के परीक्षण को लेकर हमारे पास अब तक का अच्छा डेटा है। हमें क्लिनिकल ट्रायल में प्रभावकारिता दिखाने की जरूरत है, मगर अब तक की बात करें तो काफी अच्छे परिणाम आए हैं।'

बता दें कि एस्ट्राजेनेका ब्रिटेन की सबसे वैल्यूएबल लिस्टेड कंपनी है। इसने पहले ही अपने अंडर ट्रायल कोविड-19 वैक्सीन की 2 बिलियन से अधिक खुराक बनाने के लिए देशों के साथ सौदे कर चुकी है। कंपनी का मानना है कि इस साल के अंत तक उसके वैक्सीन को अप्रूवल मिल जाएगा।

View More

24x7 HELP

Visitor
अब तक देखा गया